-JPSC के 5वें कंबाइंड सिविल सर्विसेज प्री एचजाम के रिजल्ट के मामले में केंडीडेट्स को अपनी ग्रिवांसेज रचाने के लिए 60 दिन का समय

-RTI के तहत केंडीडेट्स अपनी OMR sheet दिचाने की मांग कर सकते हैं

jamshedpur@inext.co.in

JAMSHEDPUR : झारचांड पचिलक सर्विस कमीशन (जेपीएससी) द्वारा ऑर्गेनाइज 5वें कंबाइंड सिविल सर्विसेज प्रिलिमनरी टेस्ट के रिजल्ट में शामिल होने वाले रंजीत कुमार को जेनरल स्टडीज पेपर 1 में रिजेचटेड दिचाया गया जबकि उचहें दूसरे पेपर में 100 में 76 माचर्स मिले हैं. रंजीत कुमार का कहना है कि उचहोंने पहले चाी जेपीएससी के अलावा कई दूसरे कॉचपटीटीव एचजाम दिए हैं इसलिए उनसे इस तरह की गलती नहीं हो सकती. रंजीत ने आरटीआई के चा्रू जेपीएससी से अपनी ओएमआर शीट दिचाने की मांग करने वाले हैं. अगर आपका चाी रिजल्ट इस तरह के कारचाों से नहीं आया और रिजेचट कर दिया गया है तो आपके लिए चाी यह ऑचशन है.

60 दिनों के अंदर RTI के चा्रू ओएमआर शीट दिचाने की मांग करें

अगर आप अपनी ओएमआर शीट चाुद देचाना चाहते हैं तो इसके लिए जितनी जल्दी हो सके जेपीएससी में आरटीआई फाइल कर दें. जेपीएससी ने इसके लिए म्0 दिन का समय तय कर दिया है. वैसे तो आयोग का मानना है कि ओएमआर कंचयूटर से चेक होता है इसलिए उसमें गलतियां होने की संचावना नहीं है पर अगर किसी ओएमआर शीट में किसी तरह की गलती सामने आएगी तो उसे आयोग द्वारा कंसीडर किया जाएगा. जेपीएससी द्वारा ख्77 पोस्ट के लिए कंडचट किए गए इस एचजाम में फ्898 केंडीडेट्स मेंस एचजाम के लिए चवालिफाई किए हैं. इनमें अनरिज‌र्व्ड केटेगरी के ख्ख्90, एसटी के 77ब्, एससी फ्भ्7, बीसी क् के ख्7ख् और बीसी ख् के ख्0भ् केंडीडेट्स चवालिफाई डिचलेयर किए गए.

हालांकि हमें नहीं लगता कि ओएमआर को चेक करने में किसी तरह की गलती हुई होगी, चयोंकि इसे कंचयूटर से चेक किया जाता है. फिर चाी केंडीडेट चाहें तो म्0 दिनों के अंदर आरटीआई द्वारा ओएमआर शीट दिचाने की मांग कर सकते हैं.

- सुमंत सिचहा, एचजामिनेशन कंट्रोलर, जेपीएससी