शिवमोग्गा, कर्नाटक (एएनआई)कर्नाटक के शिवमोग्गा जिले के सागर तालुक में कांग्रेस अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के खिलाफ 11 मई को पीएम-केयर्स फंड को लेकर पार्टी के आधिकारिक हैंडल द्वारा ट्वीट पर एक एफआईआर दर्ज की गई है। बताया जा रहा है कि गांधी के खिलाफ भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 153 (दंगा भड़काने के इरादे से भड़काऊ बयान देना) और 505 (सार्वजनिक उपद्रव के लिए जिम्मेदार बयान) के तहत एफआईआर दर्ज की गई है। वकील प्रवीण केवी ने यह शिकायत दर्ज कराई है और साथ ही उन्होंने आरोप लगाया है कि कांग्रेस पार्टी ने ट्वीट के माध्यम से भारत सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ बयानबाजी की और लोगों को सरकार के खिलाफ भड़काने का प्रयास किया।

11 मई को किया गया था ट्वीट

एफआईआर के अनुसार, कांग्रेस पार्टी ने 11 मई, 2020 को झूठे और बेबुनियाद आरोप लगाए थे, ट्वीट के माध्यम से पीएम-केयर्स फंड का दुरुपयोग करने का दावा किया था। प्रवीण ने एएनआई को बताया, 'सोनिया गांधी की अध्यक्षता में अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी द्वारा संचालित एक ट्विटर अकाउंट ने 11 मई, 2020 को पीएम केयर्स फंड को पीएम कार्स फ्रॉड करार दिया था। उन्होंने दावा किया था कि पीएम केयर्स फंड का इस्तेमाल जनता के लिए नहीं किया जा रहा है।'

सभी विवरण किए हैं एकत्र

प्रवीण ने आगे यह भी कहा कि उन्होंने हैंडल से ट्वीट और अकाउंट से संबंधित सभी विवरण एकत्र किए हैं और मामले में शिकायत दर्ज की है, जिसके बाद प्रारंभिक जांच की गई। उन्होंने कहा, 'उन्होंने यह भी कहा था कि प्रधानमंत्री इस कोष के साथ विदेश यात्राओं का आनंद ले रहे थे। इस COVID-19 महामारी की स्थिति में भारत सरकार के खिलाफ यह स्पष्ट रूप से अफवाह है। इस संबंध में, मैंने शिकायत दर्ज की थी। प्राथमिक पूछताछ के बाद, सागर पुलिस ने आईएनआर ट्विटर अकाउंट के प्रमुख सोनिया गांधी के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है।'

Posted By: Mukul Kumar

National News inextlive from India News Desk

inext-banner
inext-banner