-थर्सडे को नगर निगम की टीम ने हटवाया था कब्जा, फ्राइडे को फिर करने लगे खोदाई

बरेली. नगर निगम की उदासीनता के कारण अतिक्रमणकारियों का मनोबल इतना बढ़ गया कि उन पर नगर आयुक्त के एक्शन का भी असर नहीं रहा. थर्सडे को कब्जा हटाने के बाद भी ई-चार्जिग स्टेशन बनाने के लिए शेरपुर में तय की गई जमीन पर सैटरडे को फिर से कब्जा करना शुरू कर दिया. हालांकि इस बार नगर निगम को सख्ती दिखानी पड़ी. नगर निगम की ओर से इज्जतनगर थाने में तीन लोगों को नामजद करते हुए एफआईआर दर्ज कराई गई है.

यह है पूरा मामला

महानगर कॉलोनी के सामने गुर्जर ढाबा के पास स्थित शेरपुर में नगर की खसरा संख्या 25 में 650 वर्ग गज भूमि है. इस भूमि पर अनेजा पीली कोठी के सामने स्टेडियम रोड निवासी रोहित वर्मा, मनीष वर्मा, विजय वर्मा थर्सडे को जेसीबी से खोदाई करवा रहे थे. इसकी जानकारी राजस्व प्रभारी ललतेश कुमार सक्सेना को हुई तो उन्होंने नगर निगम के ड्राफ्टमैन शमशुल हसन को मौके पर भेजा. जहां मानसिंह, छेदा लाल, अनुपम चमन, रवि लेखवानी, शिवम माथुर, भूप सिंह, प्रेमशंकर आदि की शिकायत के आधार पर जांच की तो जमीन निगम की निकली. इसके बाद निगम की टीम ने उसे ढहवा दिया था, लेकिन फ्राइडे को आरोपियों ने फिर जमीन पर कब्जा करना शुरू कर दिया. जिसकी जानकारी होने पर निगम के अवर अभियंता नागेंद्र शर्मा पहुंचे. जहां विरोध के बीच पुन: जमीन को कब्जा मुक्त कराया. साथ ही इसकी तहरीर उन्होंने इज्जतनगर थाने में दी. आरोप लगाया कि रोहित, मनीष और विजय निगम की इस बेशकीमती जमीन पर कब्जा कराना चाहते हैं. पुलिस ने तहरीर के आधार पर आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया.

पुलिस से जवाब तलब

दूसरे दिन भी शिकायत नगर आयुक्त सैमुअल पॉल एन से की गई. जिसे गंभीरता से लेते हुए वे मौके पर पहुंच गए. इज्जतनगर थाने की पुलिस से जबाव तलब किया. साथ ही अतिक्रमणकारियों के चंगुल से निगम की भूमि को मुक्त कराते हुए कार्रवाई की चेतावनी दी.