- विवाहिता के पति सहित पांच के विरुद्ध मुकदमा दर्ज

- एसएसपी के निर्देशों पर की पुलिस ने कार्रवाई

HARIDWAR: दहेज में कार न लाने पर ससुराल वालों ने विवाहिता से मारपीट कर उसे घर से निकाल दिया. पीडि़ता के पिता ने पुलिस को इस संबंध में तहरीर दी है. पुलिस कप्तान के आदेश पर ज्वालापुर कोतवाली पुलिस ने पीडि़ता के पति सहित पांच लोगों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

दहेज से संतुष्ट नहीं था ससुराल पक्ष

पुलिस के अनुसार ज्वालापुर कोतवाली में सुभाषनगर निवासी राकेश पुत्र घनश्याम ने रिपोर्ट दर्ज कराई कि उसने अपनी बेटी कविता की शादी रुड़की की आवास विकास कॉलोनी निवासी अमित के साथ की थी. राकेश ने बताया कि उसने अपनी बेटी को दहेज में अपनी हैसियत से अधिक दान दहेज दिया था, परन्तु उसका पति व ससुराल वाले उस दान दहेज से संतुष्ट नही थे. बताया कि इस बीच उसके पति व ससुराल वालों ने उसे मारपीट करने के बाद घर से ये कहते हुए निकाल दिया कि जब तुम्हारे परिवार वाले कार देने को राजी होंगे तभी घर के अंदर कदम रखना. इस बीच विवाहिता ने अपने ससुराल वालों के बारे में आकर जानकारी दी.

महिला हेल्पलाइन में नहीं हो पाया राजीनामा

विवाहिता ने पहले महिला हेल्प लाइन में पति सहित ससुराल वालों के विरुद्ध कार्रवाई को तहरीर दी थी. महिला हेल्प लाइन ने दोनों पक्षों की बात सुनने के बाद जांच में पाया कि ससुराल वाले ही विवाहिता को नही रखना चाहाते हैं, तो उन्होने इस मामले की रिपोर्ट एसएसपी को दी जिस पर एसएसपी ने ज्वालापुर पुलिस को मुकदमा दर्ज करके जांच रिपोर्ट देने को कहा है. पुलिस ने विवाहिता के पति अमित, अशोक, अरविन्द, रजत, निश्चल्य देवी के खिलाफ दहेज का मुकदमा दर्ज कर लिया है. कोतवाल डी.एस रावत ने बताया अभी मामले की जांच की जाएगी उसके बाद आगे की कार्यवाही होगी.