- चिलुआताल एरिया के अमहवा की घटना, भागे आरोपी

- घर के सामने कीचड़ को लेकर आपस में भिड़े थे दोनों पक्ष

GORAKHPUR: चिलुआताल, अमहवा में सोमवार की सुबह गोलियों की तड़तड़ाहट से पूरा इलाका थर्रा उठा. घर के सामने कीचड़ के विवाद को लेकर बदमाशों ने पट्टीदार पर गोली दाग दी. हमले के बाद आरोपी परिवार संग घर में ताला बंद करके फरार हो गए. भागते समय उनका तमंचा गिर गया था. पुलिस मामले की छानबीन में जुटी है. गोली लगने से घायल युवकों को मेडिकल कॉलेज में एडमिट कराया गया. पुलिस का कहना है कि दोनों परिवारों में पुरानी रंजिश चल रही है.

बारिश होने पर घर के सामने हुआ कीचड़

अमहवा निवासी रामकरन का बेटा प्रदीप अपने चचेरे भाई संदीप संग पशुओं को चरने के लिए छोड़ने गया था. उनके वापस आने पर एक दुकान पर रामकरन का पट्टीदार रामपाल बैठा हुआ था. रामपाल ने आरोप लगाया कि प्रदीप ने कीचड़ फैला दिया. विरोध करने पर रामपाल ने दोनों को खदेड़ लिया. विवाद बढ़ने पर संदीप और प्रदीप अपने घर में घुस गए. आरोप है कि कुछ देर बाद रामपाल, रविंद्र और कुछ अन्य लोग घर में घुस गए. परिवार के लोगों के साथ मारपीट शुरू कर दी. रामपाल ने प्रदीप पर तमंचा तानकर गोली दाग दी. गोली लगने पर प्रदीप गिर पड़ा. परिवार के लोग दहशत में आ गए.

चल रही रंजिश, मर्डर का केस

मामले की जानकारी पाकर पुलिस पहुंची. इस दौरान पता लगा कि दोनों परिवारों में चार साल से रंजिश चल रही है. इसी तरह के विवाद में प्रदीप के चाचा की हत्या कर दी गई थी. इसका ट्रायल चल रहा है. सोमवार को इस मुकदमे में गवाही भी थी. विवाद को गवाही से जोड़कर देखा जा रहा है. उधर घटना के बाद अपने मकान में ताला बंद करके आरोपी फरार हो गए. मेडिकल कॉलेज में डॉक्टरों ने बताया कि प्रदीप को बांह में गोली लगी है इसलिए कोई खतरा नहीं है.

वर्जन

कीचड़-मिट्टी को लेकर दो पक्ष आपस में भिड़े थे. इनमें एक ने गोली दाग दी. युवक के हाथ में गोली लगी. वह खतरे से बाहर है.

- विनय कुमार सिंह, प्रभारी एसएसपी

Posted By: Inextlive