- स्कार्पियो में सवार थे 11 लोग

- खाटू श्याम के दर्शन कर लौट रहे थे

आगरा. आवारा पशुओं से होने वाली घटनाओं पर कोई रोक नहीं है. प्रशासन के पास इसके लिए कोई प्लान नहीं है. इस बार थाना शाहगंज क्षेत्र में आवारा पशु को बचाने के चक्कर में स्कार्पियो पेड़ से टकरा गई और परिवार के पांच लोगों की मौत हो गई. परिवार बाला जी दर्शन कर घर वापस लौट रहा था.

हर एकादशी पर जाते थे

नौबस्ता, कानपुर निवासी 26 वर्षीय रोहित मिश्रा पुत्र चंद्रहास मिश्रा की कानपुर में मिठाई की दुकान है. रोहित हर एकादशी पर खाटू श्याम के दर्शन करने राजस्थान जाते थे. इस बार परिवार के अन्य लोगों ने भी साथ में जाने का प्लान बनाया. परिवार के 11 सदस्य दर्शन के लिए निकले थे. परिवार 15 फरवरी की शाम को पांच बजे निकला था. खाटू श्याम के दर्शन के बाद परिवार बालाजी दर्शन को चला गया. 16 फरवरी की रात परिवार वापस घर लौट रहा था. रोहित कार चला रहे थे. रात 10 उनकी अपने भाई से फोन पर बात हुई. भाई ने बोला कि आराम कर निकलना, लेकिन रोहित ने गाड़ी नहीं रोकी. बिना रुके ही गाड़ी चलाते रहे.

गाय सामने आने पर हुआ हादसा

परिजनों ने गाय सामने आने की बात पुलिस को लिख कर दी है. रात में जैसे ही उनकी कार शाहगंज स्थित टाटा गेट और पृथ्वीनाथ फाटक के पास आई, वैसे ही कार के आगे गाय आ गई. गाय सामने आने से कार अनियंत्रित होकर पेड़ से टकरा गई. तेज आवाज सुन आसपास के लोग जमा हो गए. पुलिस भी पहुंच गई. किसी तरह घायलों को बाहर निकालकर हॉस्पिटल पहुंचाया.

ये हुए हताहत

इस भयानक हादसे में रोहित मिश्रा व 9 वर्षीय हर्ष शुक्ला पुत्र उमेश शुक्ला निवासी आनाखेड़ा, सिवली, कानपुर, 50 वर्षीय अंजना तिवारी पत्नी सुनील कुमार निवासी रामबाग, थाना बजरिया कानपुर, 46 वर्षीय मंजू मिश्रा पत्नी चंद्रहास मिश्रा निवासी नौबस्ता कानपुर नगर, 18 वर्षीय रिया मिश्रा पुत्री चंद्रकांत मिश्रा की मौत हो गई. जबकि शालिनी मिश्रा उर्फ शालू पत्नी चंद्रकांत मिश्रा, श्रेया शुक्ला पुत्री दिनेश शुक्ला, रामश्री शुक्ला पत्नी पुत्तन लाल मिश्रा निवासी सिवली, कानपुर देहात, रिशभ पुत्र सुनील तिवारी निवासी रामबाग, कानपुर, लक्ष्मी पुत्री उमेश शुक्ला घायल हो गए.

काश रुक जाते उस पल

रोहित के छोटे भाई राहुल का कहना था कि काश जिस वक्त भाई से बात हुई, वह उस पल रुक जाते. हादसा टल जाता. परिजनों को रात एक बजे सूचना मिली. वह तभी चल दिए पर हाईवे पर कोहरा होने के चलते रविवार की सुबह छह बजे आ पाए. सभी घायलों को उपचार के लिए कानपुर भेज दिया. भाई राहुल ने बताया कि रामश्री शुक्ला रोहित की नानी है. शालिनी चाची हैं. रिया चचेरी बहन, हर्ष ममेरा भाई, लक्ष्मी हर्ष की बहन है. पुलिस ने सभी का पोस्टमार्टम कराया है.