नई दिल्ली (एएनआई)। पाकिस्तान के खैबर-पख्तूनख्वा प्रांत के बालाकोट इलाके में जैश-ए-मोहम्मद (JeM) के आतंकी लॉन्च पैड पर बम गिराने की योजना बनाने और उसे अंजाम देने वाले भारतीय वायु सेना के पांच अधिकारियों को स्वतंत्रता दिवस के मौके पर 'युद्ध सेवा मेडल' से सम्मानित किये जाने का फैसला किया गया है। इस मेडल से सम्मानित किये जाने वाले अधिकारियों में एयर कमोडोर सुनील काशीनाथ विधाते, ग्रुप कैप्टेन यशपाल सिंह नेगी, हेंसल जोसेफ सेकेरा, हेमंत कुमार और महिला अधिकारी स्क्वाड्रन लीडर मिंटी अग्रवाल का नाम शामिल है। इसके अलावा जम्मू-कश्मीर के कुलगाम में आतंकियों से मुकाबला कर शहीद हुए भारतीय सेना की 1st राष्ट्रीय राइफल (महार) बटालियन के जवान प्रकाश जाधव को कीर्ति चक्र से सम्मानित किया जायेगा।

पाकिस्तानी F-16 मार गिराने वाले विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान को वीर चक्र

भारतीय वायु सेना के सात अधिकारियों को दिया जायेगा सम्मान

इनके अलावा मिराज 2000 लड़ाकू विमानों के पायलट, जो हमलों को अंजाम देने के लिए पाकिस्तान के बालाकोट में गए थे, उन्हें 'वायु सेना मेडल' से सम्मानित किया जायेगा। भारतीय वायु सेना के जिन सात अधिकारियों को 'वायु सेना मेडल' से सम्मानित किया जायेगा, उसमें ग्रुप कैप्टेन सौमित्र तामस्कर और प्रणव राज, विंग कमांडर अमित रंजन, स्क्वाड्रन लीडर्स राहुल बसोया, पंकज भुजडे, बी कार्तिक नारायण रेड्डी और शशांक सिंह का शामिल है। गौरतलब है कि जम्मू और कश्मीर के पुलवामा जिले में 14 फरवरी को हुए आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 41 जवान शहीद हो गए थे। इस हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तान समर्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी। इसके बाद इंडियन एयरफोर्स ने 27 फरवरी को पाकिस्तान की सीमा में घुसकर आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के कैंपों पर हमला कर दिया। इस हमले में करीब 300 से अधिक आतंकी मारे गए।

Posted By: Mukul Kumar

National News inextlive from India News Desk