प्रयागराज भ्रमण के दौरान सीएम योगी ने कुंभ के कार्यो की समीक्षा की

PRAYAGRAJ: स्नान पर्वो से एक दिन पहले और बाद किसी भी वीआईपी का प्रोटोकाल लागू नही होगा. सीएम योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को मेला क्षेत्र स्थित एसएसपी कार्यालय में कुंभ मेला कार्यो की समीक्षा की. उन्होंने कहा कि कुंभ का सफलतापूर्वक निर्माण प्रयागराज के साथ यूपी के महत्व को बढ़ाएगा. उन्होंने कहा कि सभी तैयारियां पहले स्नान पर्व से पहले पूरी हो जानी चाहिए.

हेलीकाप्टर और द्रोण से होगी निगरानी

सुरक्षा के पहलू पर बोलते हुए सीएम ने कहा कि मेले में पुलिस कर्मचारी अपनेी ड्यूटी को लेकर मुस्तैद रहें. व्यवस्था फुल प्रूफ होनी चाहिए. कुंभ में आने वाली भीड़ को नियंत्रण करने की रणनीति पर पूरी तरह से कार्य किया जाए. उन्होंने कहा कि कुंभ में आने वाले श्रद्धालुओं पर हेलीकाप्टर से पुष्प वर्षा होगी. साथ ही हेलीकाप्टर और द्रोण से भीड़ की निगरानी भी की जाएगी. उन्होंने पुलिस की जानकारी डीआईजी कुंभ केपी सिहं से ली. सीएम ने कहा कि निर्माण कार्यो में गुणवत्ता का पूरा ध्यान रखा जाना चाहिए. महिलाओं की सुरक्षा पर विशेष ध्यान दिया जाना जरूरी है. साथ ही पैरामिलट्री, एनडीआरएफ, पीएसी, जल पुलिस के जवानों के बारे में पूरी जानकारी भी उन्होनें ली.

मिले नि:शुल्क भोजन व आवास

सीएम ने कहा कि कुंभ में असामाजिक तत्वों पर पूरी नजर रखी जाए. पेंट्रोलिग नियमित हो. कंट्रोल कमांड सेंटर के कार्यो की जानकारी भी ली और कहा कि सिस्टम के जरिए पूरी कुंभ एरिया की निगरानी की जानी चाहिए. कहा कि यूपी से बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं को नि:शुल्क भोजन और आवास की सुविधा दी जानी चाहिए. उन्होंने कहा कि कुंभ को देखने के लिए कई देशों के प्रमुख, गवर्नर, सीएम देखने आएंगे. इस कार्य को संपन्न कराने के लिए अलग से प्रोटोकाल विभाग गठित किया जाए. उन्होंने कहा कि यह पहला कुंभ होगा जिसमें जल, थल और नभ से लोग आएंगे. इस बार कुंभ को यूनेस्को से मान्यता दी गई है. हर हाल में अफवाहों पर नियंत्रयण हो.