- प्रदेश में कंटेंट क्रिएशन वर्किंग ग्रुप स्थापित किया जाए

>DEHRADUN: केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति जुबिन ईरानी ने कंटेंट क्रिएशन पर जोर देते हुए कहा कि जितनी तेजी से विश्व में कंटेंट क्रिएशन बदल रहा है, उतना ही प्रगतिशील हमारा सिस्टम भी होना चाहिए. प्रदेश में एक कंटेंट क्रिएशन वर्किंग ग्रुप स्थापित किया जाए. प्रोडक्शन फैसिलिटेशन इसके समन्वय में काम करें. डिजिटल माध्यम की बढ़ती ताकत का यूज करने के लिए भी पुख्ता व्यवस्था हो. उन्होंने कहा कि फिल्म शूटिंग के लिए अन्य सुविधाओं के साथ ही कंटेंट क्रिएशन पर ध्यान देने की जरूरत है.

स्थानीय भाषा में हो कंटेट क्रिएशन

राज्य स्थापना दिवस के उपलक्ष्य में मसूरी में आयोजित प्रोग्राम में केंद्रीय मंत्री स्मृति जुबिन ईरानी ने कहा कि कंटेंट क्रिएशन में बहुआयामी प्लेटफॉर्म को समझना होगा. फिल्म व टेलिविजन के साथ डिजिटल क्रांति के लिए भी तैयारियां पुख्ता होनी चाहिए. आने वाले समय में डिजिटल मीडिया सबसे सशक्त माध्यम बनने जा रहा है. उन्होंने स्थानीय भाषाओं में भी कंटेंट क्रिएशन पर फोकस किए जाने पर जोर दिया. बड़े निर्माताओं व स्थानीय कंटेंट क्रिएटर के बीच कॉर्डिनेशन स्थापित हो. रीजनल लैंग्वेजेज को भी मजबूत करना होगा. एकेडेमिक्स ऑफ फिल्म मेकिंग एंड प्रोडक्शन मैनेजमेंट स्किल्स पर भी उन्होंने जोर दिया. जिसके लिए हाईस्कूल से ही शिक्षा की व्यवस्था हो. उन्होंने कहा कि उत्तराखंड का इतिहास व संस्कृति बहुत समृद्ध है. पूरे व‌र्ल्ड से इसका परिचय कराए जाने की जरूरत है. इसके लिए राज्य के इतिहास व संस्कृति का डॉक्यूमेंटेशन व डिजिटलाजेशन कर डिजिटल मीडिया के माध्यम से दुनियाभर तक पहुंचाने की कोशिश होनी चाहिए.

सुझावों पर अमल करेगी सरकार

सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि स्टेट में फिल्म, टीवी, सीरियल आदि की शूटिंग को बढ़ावा देने के लिए सरकार फिल्मकारों व इस क्षेत्र के स्पेशलिस्टों के सुझावों को अमल में लाएगी. गत वर्ष इन्वेस्टर्स समिट के समय जो भी सुझाव मिले थे, उन्हें समाहित करते हुए फिल्म पॉलिसी तैयार की गई है. इसी वजह से बड़ी संख्या में शूटिंग हुई है. स्टेट में नेचुरल ब्यूटी व लोकेशन के कारण शूटिंग के लिए सिंगल विंडो सिस्टम लागू किया गया है. कहा, स्टेट में फिल्म निर्माण से संबंधित संस्थाएं स्थापित की जा सकती हैं. सरकार हेल्प करने को तैयार है.

बॉलीवुड की हस्तियों ने की शिरकत

मसूरी फिल्म कॉन्क्लेव में 4 सेशन आयोजित किए गए. जिनमें उत्तराखंड की फिल्म पॉलिसी और राज्य में फिल्म शूटिंग को बढ़ावा देने पर चर्चा हुई. जबकि राज्य में शूटिंग कर चुके फिल्म मेकर्स से भी फीडबैक लिया गया. फिल्मी हस्तियों में विशाल भारद्वाज, तिग्मांशु धूलिया, मुजफ्फर अली, जैकी भगवानी, नारायण सिंह, अजय अरोड़ा, तरूण आदर्श, कविता चौधरी, भरत बाला आदि ने पार्टिसिपेट किया. इस दौरान मसूरी विधायक गणेश जोशी, पूर्व विधायक जोत सिंह गुनसोला, पालिका अध्यक्ष अनुज गुप्ता, सचिव सूचना दिलीप जावलकर, डीजी इन्फॉर्मेशन डा. एमएस बिष्ट आदि मौजूद रहे.

Posted By: Inextlive