नई दिल्ली (एएनआई)। बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्रा का लंबी बीमारी के बाद सोमवार सुबह नई दिल्ली में निधन हो गया है। बता दें कि 82 वर्षीय जगन्नाथ ने एक प्रोफेसर के रूप में अपने करियर की शुरुआत की थी और कांग्रेस पार्टी से तीन बार बिहार के मुख्यमंत्री रहे। मिश्रा ने केंद्रीय मंत्री के रूप में भी काम किया। वह भारतीय जन कांग्रेस (राष्ट्रीय) के सदस्य थे। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मिश्रा के निधन पर शोक जाहिर की है और राज्य में तीन दिवसीय राजकीय शोक की घोषणा भी की है।


चारा घोटाला में लालू दोषी करार, जगन्नाथ मिश्र समेत 7 बरी

मुख्यमंत्री और राज्यपाल ने मिश्रा के योगदानों को किया याद
नीतीश कुमार ने अपने बयान में कहा, 'जगन्नाथ मिश्र एक प्रसिद्ध नेता और शिक्षाविद थे। उन्होंने बिहार और भारत की राजनीति में अपना अमूल्य योगदान दिया। उनके निधन से राजनीति, समाज और शिक्षा के क्षेत्र में बड़ी क्षति हुई है।' इसके अलावा राज्यपाल फागू चौहान ने भी उनके निधन पर शोक व्यक्त किया और राजनीति में उनके अहम योगदान को याद किया। बता दें कि पूरे राजकीय सम्मान के साथ मिश्रा अंतिम संस्कार किया जाएगा। बता दें कि पिछले साल जगन्नाथ मिश्रा को चारा घोटाला मामले से बरी कर दिया गया था।

 

Posted By: Mukul Kumar

National News inextlive from India News Desk