क्त्रन्हृष्ट॥ढ्ढ (21 रूड्ड4) : हर फ्रिक को धुएं में उड़ाता चला गया.. कुछ इसी अंदाज में हैदराबाद सनराइजर्स के मेंटर श्रीकांत बुधवार को रांची एयरपोर्ट पर दिखे. हाई लेवल सिक्योरिटी के बीच बिना झिझक के साहब सिगरेट का कश लगाए जा रहे थे. न तो उन्हें एयरपोर्ट का ख्याल था और न ही पब्लिक प्लेस के नियम का. यही सिगरेट अगर कोई और पीए, तो उसे उठाकर बाहर का रास्ता दिखाया जाता और फाइन भी वसूली जाती है. मगर श्रीकांत के साथ ऐसा कुछ भी नहीं हुआ. वह बड़े ही आराम से और पूरी आजादी के साथ सिगरेट के कश लगाए जा रहे थे.

न मना किया, न कार्रवाई की

गुरुवार को धुर्वा के जेएससीए इंटरनेशनल स्टेडियम में चेन्नई सुपरकिंग्स के साथ होनेवाले आईपीएल मैच को लेकर हैदराबाद सनराइजर्स की टीम बुधवार की शाम को बिरसा मुंडा एयरपोर्ट पहुंची. टीम के साथ टीम के मेंटर एस श्रीकांत भी बस में बैठने के लिए जाने लगे. तभी उन्हें तलब लगी और उन्होंने एक सिगरेट निकालकर जलाई. बड़े आराम से गेट से बाहर सिगरेट का धुआं उड़ाते हुए वह बस के पास आ गए और अंदर चले गए. इस दौरान एयरपोर्ट के गेट पर सीआरपीएफ के जवान और बस तक झारखंड पुलिस के अधिकारी और जवान तैनात थे. लेकिन, किसी ने श्रीकांत को सिगरेट पीने से नहीं रोका. यही हिमाकत अगर किसी आम आदमी ने की होती, तो उसका कुछ और ही अंजाम होता.

एयरपोर्ट पर बैन है स्मोकिंग

बिरसा मुंडा एयरपोर्ट पर स्मोकिंग पर बैन लगा है. अगर वहां सिगरेट पीते हुए कोई पकड़ा जाता है, तो उसपर 300 रुपए फाइन लगाया जाता है. दो साल पहले एक महिला एयरपोर्ट से बाहर निकलने के बाद बाहर ही एक सिगरेट जलाकर कश लगाने लगी. इतने में सीआरपीएफ के एक जवान की नजर उसपर पड़ी. उसने उस महिला को मना किया और वहां से जाने के लिए कहा था.

फाइन तो दूर, श्रीकांत को मिल रही थी सिक्योरिटी

एस श्रीकांत पूर्व क्रिकेटर हैं और हैदराबाद सनराइजर्स के मेंटर भी हैं. लेकिन, एक ओर जहां एयरपोर्ट पर सिगरेट या किसी भी नशीले पदार्थ के सेवन पर प्रतिबंध है और इसके लिए फाइन चार्ज किया जाता है, वहीं दूसरी ओर श्रीकांत से फाइन तो दूर की बात है, इनको तो सिक्योरिटी मिल रही थी कि वह किसी तरह बस में चले जाएं. ऐसा पहली बार देखा गया कि किसी ने सिक्योरिटी में रहकर स्मोकिंग की है. एयरपोर्ट अथॉरिटी और सिक्योरिटी भी इस स्मोकिंग के नजारे को देखते रहे और कोई कार्रवाई नहीं की.

'एयरपोर्ट गेट से बाहर निकलकर कोई सिगरेट नहीं पी सकता है. इसके लिए नो स्मोकिंग जोन बनाया गया है. अगर कोई सिगरेट पीते हुए पकड़ा जाता है, तो उसपर फाइन किया जाता है.'

-राघवेंद्र राजू

डायरेक्टर, बिरसा मुंडा एयरपोर्ट, रांची