jamshedpur@inext.co.in

JAMSHEDPUR: अगर आपके पास इलाज कराने को पैसा नहीं है तो चिंता न करें. गंगा मेमोरियल हॉस्पिटल आएं. यहां मुफ्त में सर्जरी होगी. हॉस्पिटल के संचालक डॉ. नागेंद्र सिंह ने अपनी मां गंगा देवी की पुण्य तिथि पर मुफ्त में 335 सर्जरी करने का लक्ष्य रखा है. मानगो स्थित मुंशी मोहल्ला निवासी रुक्मिणी देवी के आंत में 12 गुणा 10 इंच (काफी बड़ा) का पत्थर लेकर घूम रही थी. उनके पास इलाज कराने के लिए न तो पैसा था और न ही सरकारी मदद लेने के लिए लाल कार्ड. रुक्मिणी दर्द से परेशान. इसी दौरान उसे किसी ने डॉ. नागेंद्र सिंह का पता दिया. उसने डॉक्टर साहब से पूछा कि क्या यहां मुफ्त में सर्जरी होती है. डॉक्टर साहब ने कहा-मुझे ये पता है कि यहां से इलाज के अभाव में कोई लौट कर नहीं जाता. आप भर्ती हो जाइए, पैसे का चिंता न कीजिए. पत्थर आंत में था, इसलिए सर्जरी जटिल थी. तीन घंटे तक सर्जरी चली. अब वह स्वस्थ हो चुकी है. रुक्मिणी की मुफ्त में सर्जरी हुई.

एक गरीब मरीज पहंचा इलाज को
इसी तरह, केंद्रीय वरिष्ठ नागरिक समिति के अध्यक्ष शिव पूजन सिंह ने एक गरीब मरीज को सर्जरी के लिए भेजा. उसके गर्भाशय में ट्यूमर था. उसकी भी मुफ्त में सर्जरी हुई. दूसरे किसी निजी अस्पतालों में यह दोनों सर्जरी होती तो करीब 80 से 90 हजार रुपये खर्च आते.

इन बीमारियों की हो रही मुफ्त सर्जरी
अगर आपके पित्त की थैली में पत्थर है, एपेंडिक्स, ओवरी का ट्यूमर है, बच्चेदानी का ट्यूमर, आंत का ट्यूमर या शरीर के ऊपरी भाग में पाए जाने वाले ट्यूमर है तो सर्जरी मुफ्त में होगी. इसका लाभ सेना, शहीद हुए जवान के परिजन भी उठा सकते हैं.

2 मार्च तक 335 सर्जरी मुफ्त में की जा रही है. इसका लाभ कोई भी गरीब मरीज उठा सकता है. बीते 30 साल में मैं अभी तक 13665 मुफ्त में सर्जरी कर चुका हूं. मरीजों की सेवा ही हमारा लक्ष्य है.

- डॉ. नागेंद्र सिंह, सर्जन, गंगा मेमोरियल हॉस्पिटल.