- एमडी ने आरएम को पत्र के माध्यम से दिए आदेश

- बस अड्डों को प्लास्टिक मुक्त करने के चलते उठाया कदम

आई स्पेशल

Meerut: अब बस यात्रा के दौरान बस अड्डों पर आपको कुल्हड़ में चाय मिलेगी. इससे मिट्टी की खुशबू का एहसास तो होगा ही साथ ही कुम्हारों की भी आमदनी में इजाफा होगा. कुल्हड़ में चाय बेचने के आदेश एमडी ने सभी आरएम को जारी कर दिए हैं. वहीं, कैंटीन संचालकों को भी कुल्हड़ में चाय बेचने के निर्देश मिल गए हैं.

प्लास्टिक पर होगी रोक

रोडवेज की इस पहल से बस अड्डों पर प्लास्टिक के उपयोग पर नकेल कसेगी. साथ ही प्लास्टिक के गिलास का भी उपयोग कम होगा.

सख्त कार्रवाई के निर्देश

फाइबर या प्लास्टिक के गिलास मिलने पर कैंटीन संचालकों पर सख्त कार्रवाई होगी. इस बाबत कैंटीन संचालकों को साफ निर्देश दिए गए हैं. लापरवाही बरतने पर ठेका भी निरस्त किया जा सकता है.

वर्जन

वास्तव में यह एक अच्छा कदम है. इसे अमल में लाने के लिए कैंटीन संचालकों को कहा गया है.

मनोज पुंडीर, आरएम

--

फैक्ट एंड फीगर

- 784 कुल बसों का आवागमन है मेरठ रीजन में

- 458 कुल बसें चल रही हैं निगम की

- 326 अनुबंधित बसों की कुल संख्या

- 2 बस अड्डे हैं मेरठ शहर में

- 2100 कुल ड्राईवर और कंडक्टर की संख्या

- 2 कैंटीन हैं दोनों बस अड्डों पर

- 2000 औसतन होती है रोजाना चाय की बिक्री

- 7 रुपए है डिस्पोजल में चाय की कीमत

- 10 रुपए होगी कुल्हड़ में चाय की कीमत