सिटी के कई इलाकों में लगा वाहनों का लम्बा काफिला

जाम की समस्या से जूझती रही पब्लिक, स्कूली बच्चे हुए परेशान

prayagraj@inext.co.in

PRAYAGRAJ: शहर से लेकर मेला तक बुधवार को लोगों को जाम के झाम में फंसना पड़ा. जाम के चलते छोटे-बड़े वाहन जहां-तहां फंसे रहे. जाम का आलम ये था कि लोगों को पैदल चलने में भी कठिनाई हो रही थी. संगम की ओर जाने वाली सभी सड़कों पर वाहन रेंगते नजर आए. जाम छुड़ाने में ट्रैफिक पुलिस अधिकारियों को घंटों पसीना बहाना पड़ा.

पीठ थपथपाओ, पसीना बहाओ

मुख्य स्नान पर्व मौनी अमावस्या को सकुशल सम्पन्न कराने में सफल होने पर अधिकारी अपनी पीठ थपथपा रहे हैं. लेकिन अमावस्या का स्नान बीतने के बाद भी सिटी में जाम की समस्या उन्हें पसीना बहाने को भी विवश कर रही है. स्नान के तीसरे दिन बुधवार को वाहनों की आवाजाही शुरू हुई तो एक बार फिर शहरवासी जाम की चपेट में आ गए.

शार्टकट के चक्कर में फंसे

जगह-जगह रूट डायवर्जन और टीन शेड लगाकर बंद किए गए रास्तों के कारण लोगों ने इधर-उधर से निकलने की कोशिश की और इसकी वजह से भयंकर जाम में फंस गए. देखते ही देखते सिविल लाइंस, मेडिकल चौराहा, सोहबतियाबाग, आलोपीबाग, सीएमपी डाट का पुल, जीटी जवाहर, चुंगी, नैनी एरिया, मुंडेरा, रामबाग समेत कई इलाकों में लम्बा जाम लगा रहा.

शाम तक रही अफरा-तफरी

दोपहर से शाम तक लगे जाम में स्कूली बच्चे, कर्मचारी, श्रद्धालु और आम नागरिक भी घंटों परेशान रहे. संबंधित थाने की पुलिस और ट्रैफिक पुलिस भी जाम हटवाने की मशक्कत में जुटी रही. यह सिलसिला देर शाम तक चलता रहा, इस दौरान पुलिस अधिकारी के साथ ही स्थानीय थाने की पुलिस भी जाम को खुलवाने में जुटी रही. देर शाम को समस्या समाप्त होने के बाद ट्रैफिक पुलिस ने राहत की सांस ली.