lucknow@inext.co.in
LUCKNOW : हमीरपुर खनन घोटाले में पूर्व मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति से इंफोर्समेंट डायरेक्टरेट (ईडी)क्र ने गुुरुवार को भी गहन पूछताछ की। केजीएमयू में भर्ती गायत्री से ईडी के अफसरों ने उसकी नई संपत्तियों और बेनामी संपत्तियों के बारे में सवाल किए तो वह इनको अपना बताने से मुकर गया। इसके बाद ईडी ने गायत्री के खिलाफ आई शिकायतों को लेकर पूछना शुरू किया तो उसने इन शिकायतों की वजह अपनी राजनैतिक रंजिश करार दे डाली।

गायत्री के दोनों बेटों से होगी पूछताछ

सूत्रों की मानें तो अब ईडी गायत्री के दोनों बेटों अनिल प्रजापति और अनुराग प्रजापति से पूछताछ की तैयारी में है। जल्द ही उनको राजधानी स्थित ईडी मुख्यालय में नोटिस देकर तलब किया जाएगा। दरअसल गायत्री के दोनों बेटों के नाम करीब एक दर्जन कंपनियां है जिनमें खासी तादाद में धनराशि ट्रांसफर की गयी है। ईडी को संदेह है कि यह धनराशि खनन घोटाले से अर्जित करने के बाद उसे व्हाइट मनी में तब्दील करने को कंपनियों में निवेश की गयी है।

कंपनियों के बारे में होनी है पूछताछ
पूछताछ के दौरान गायत्री ने अपनी कंपनी एमजी कॉलोनाइजर्स के बारे में तो ईडी के सवालों का जवाब दिया पर अपने बेटों की कंपनियों के बारे में कोई भी जानकारी होने से साफ इंकार कर दिया। वहीं जब ईडी ने गायत्री के खिलाफ की गयी शिकायतों में उसके करीबियों के नामों के बारे में पूछना शुरू किया तो उसने साफ तौर पर किसी को पहचानने से ही इंकार कर दिया। ईडी ने गायत्री से पूछताछ के तीसरे और अंतिम दिन उसका पूरा बयान दर्ज कर लिया है और जल्द ही उसकी कई संपत्तियों को अटैच करने की तैयारी में है।

National News inextlive from India News Desk