-कचहरी पैदल जा रही थी युवती, जबरन स्कूटी पर बैठाने को लेकर की छेड़छाड़

BAREILLY: शहर की ग‌र्ल्स छेड़छाड़ के विरोध में जमकर आवाज उठा रही हैं. मंडे दोपहर एक शोहदे ने डीएम आवास के सामने ही युवती से छेड़छाड़ कर दी. उसने युवती पर कमेंट करते हुए उसे जबरन स्कूटी पर बैठाने की कोशिश की. शोहदे की हरकत से परेशान युवती ने हिम्मत नहीं हारी और छेड़छाड़ के खिलाफ खड़ी हो गई. उसने तुरंत शोहदे का कॉलर पकड़ा और चांटा जड़ दिया. फंसता देख शोहदे ने मौके से भागने की कोशिश की तो युवती ने उसे धक्का देकर स्कूटी से नीचे गिराकर शोर मचा दिया. इसी दौरान मौके पर भीड़ इकट्ठा हुई और शोहदे की पिटाई कर उसे पुलिस के हवाले कर दिया. कोतवाली पुलिस ने युवती की तहरीर पर एफआईआर दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है.

 

मेरी गाड़ी में बैठ जाओ

प्रेमनगर के इन्द्रानगर की रहने वाली युवती, दिल्ली की एक मल्टीनेशनल कंपनी में जॉब करती है. वह अपने मायके आयी हुई थी. मंडे दोपहर वह किसी काम से कचहरी जा रही थी. इसी दौरान डीएम आवास के आगे एक स्कूटर सवार युवक खड़ा था. युवक ने उसका रास्ता रोका और बोला कि मैडम कहां जा रही हो, मेरे स्कूटर पर बैठ जाओ. युवती ने पूछा कि आप कौन हो और कहां जाना है, तो उसने कहा कि मेरे घर. जब युवती ने मना किया तो उसने जबरदस्ती बैठाने की कोशिश की. उसके बाद युवती ने हिम्मत दिखाई और उसकी पिटाई कर उसे पकड़वा दिया. पूछताछ के दौरान शोहदे ने अपना नाम दानिश निवासी पुराना शहर बुखारपुरा पानी की टंकी बताया. वह ऑटो ड्राइवर है और कचहरी आया था. आरोपी बोला कि उसने युवती से हटने के लिए बाेला था.

 

चुप न बैठें आवाज उठाएं

दैनिक जागरण आईनेक्स्ट को युवती ने बताया कि वह छेड़छाड़, दहेज व महिलाओं के साथ होने वाले अन्याय के खिलाफ हमेशा खड़ी है. वह बचपन से ही इसके विरोध में रही है. जब भी उसके साथ कोई बद्तमीजी करता है तो वह इसी तरह से सबक सिखाती है. वह कई लोगों को मौके पर ही चांटा जड़कर सबक सिखा चुकी है, लेकिन इस बार जब शोहदा भागने लगा तो उसने पकड़कर उसे पुलिस के हवाले कर दिया. उनका कहना है कि ग‌र्ल्स को चुप नहीं बैठना चाहिए. उन्हें हिम्मत दिखाकर आवाज उठानी चाहिए. वह हिम्मत दिखाएंगी तो कोई उनसे बद्तमीजी करने की हिम्मत नहीं करेगा. उन्हें अपनी पहचान होने का भी कोई डर नहीं है. वह भविष्य में वूमेन इम्पावरमेंट के लिए एनजीओ भी खोल सकती हैं.