- डीडीयूजीयू कैंपस में तीन जगह रखी गई हैं निकाय चुनाव की ईवीएम मशीनें

- सुरक्षा इंतजामों को हल्के में ले रहे जिम्मेदार, कहीं भी पर्याप्त व्यवस्था नहीं

- दैनिक जागरण आई नेक्स्ट के रियलिटी चेक में खुलासा, स्ट्रांग रूम के बाहर ही सोता मिला पुलिस कर्मचारी

GORAKHPUR: निकाय चुनाव मतदान में तमाम लापरवाहियों के बाद बाकी व्यवस्थाओं को लेकर भी प्रशासनिक अमला गंभीर नहीं हुआ है. डीडीयूजीयू कैंपस में रखी गईं ईवीएम मशीनों की सुरक्षा व्यवस्था का लचर हाल ही देख लीजिए. कहने को तो जिला निर्वाचन अधिकारी राजीव रौतेला के निर्देश पर यहां पुलिस बल के साथ ही मजिस्ट्रेट्स की तैनाती है, लेकिन पूरे यूनिवर्सिटी कैंपस में कहीं भी सुरक्षा कर्मी मुस्तैद नहीं दिख रहे. ये हाल सामने आया है दैनिक जागरण आई नेक्स्ट के रियलिटी चेक में. जहां यूनिवर्सिटी मेन गेट पर एंट्री करने वालों के लिए कोई रोक-टोक नजर नहीं आई. वहीं, कॉमर्स फैकल्टी के मेन गेट पर ही पुलिस कर्मी सोता हुआ मिला.

टाइम -

स्पॉट - डीडीयूजीयू मेन गेट

ईवीएम की सुरक्षा व्यवस्था का हाल जानने जब दैनिक जागरण आई नेक्स्ट रिपोर्टर डीडीयूजीयू मेन गेट पर पहुंचा तो यहां की सुरक्षा में तैनात आर्मी के रिटायर्ड छह जवान मिले. लेकिन उनमें से किसी ने भी अंदर जाते वक्त पूछताछ नहीं की. अन्य लोग भी आराम से कैंपस में आ जा रहे थे.

टाइम -

स्पॉट- बैडमिंटन हॉल, डेलीगेसी

जब रिपोर्टर मेन गेट से आगे डेलीगेसी की तरफ बढ़ा तो बांस की बल्ली से बनी बेरिकेडिंग नजर आई. पास ही चार पुलिस कर्मी आपस में बात कर रहे थे. जैसे ही उन लोगों की नजर कैमरे पर पड़ी तो चारों अलर्ट हो गए. लेकिन पॉलिटिकल साइंस डिपार्टमेंट की तरफ से दूसरे गेट पर कोई भी पुलिस कर्मी नजर नहीं आया. यहां कोई बेरिकेडिंग भी नहीं थी.

टाइम -

स्पॉट- वाणिज्य संकाय (न्यू बिल्डिंग)

इसके बाद रिपोर्टर जब लॉ डिपार्टमेंट और हिंदी डिपार्टमेंट होते हुए वाणिज्य संकाय के पास पहुंचा तो वहां महज एक डीडीयूजीयू का सुरक्षा गार्ड दिखा. उसने भी अंदर जाते वक्त रिपोर्टर से कोई पूछताछ नहीं की. हद तो ये कि जहां स्टांग रूम बनाया गया था वहीं बाहर तैनात पुलिस कर्मी सोता मिला. रिपोर्टर ने उसे जगाया तो जनाब उल्टा भड़क गए. उसका कहना था कि 24 घंटे की ड्यूटी है, तो कुछ देर सो लिया तो क्या हुआ. पूछे जाने पर उसने खुद को गार्ड कमांडर बताया. जबकि बाकी के अन्य दो एसआई व एक हेड कांस्टेबल के दो-दो घंटे पर ड्यूटी बदले जाने की बात बताई.

टाइम -

स्पॉट - कन्वेंशन हाल (दीक्षा भवन)

रिपोर्टर दीक्षा भवन के पास बने कन्वेंशन हाल के पास पहुंचा. यहां भी ईवीएम रखी गई हैं. यहां एक गार्ड कमांडर, चार कांस्टेबल, एक हेड कांस्टेबल, दो एसआई के तैनाती की बात बताई गई लेकिन वहां एक गार्ड कमांडर और दो कांस्टेबल ही नजर आए. पूछे जाने पर एक सिपाही ने बताया कि पुलिस के आलाधिकारी राउंड ले रहे हैं, लेकिन मजिस्ट्रेट का अभी पता नहीं चला है.

फैक्ट फिगर -

टोटल वार्ड संख्या - 70

कुल मतदान स्थल संख्या - 158

मतदान स्थल - 718

कुल मतदाता - 8,65,302

मतदान करने वाले मतदाताओं की संख्या - 3,06,662

आवंटित वार्ड की संख्या स्ट्रांग रूम

वार्ड 1-20 बैडमिंटन हॉल, डेलीगेसी भवन

वार्ड 21-60 नव निर्मित वाणिज्य भवन

वार्ड 60-70 कन्वेंशन हाल

इन मजिस्ट्रेट की तैनाती

1- डॉ. चंद्रभूषण, अपर जिला मजिस्ट्रेट - 23 से 30 नवंबर तक

2- रजनीश चंद्र, अपर जिला मजिस्ट्रेट नगर - 24 नवंबर

3- प्रभुनाथ, अपर जिला मजिस्ट्रेट प्रशासन - 25 नवंबर

4- बलराम सिंह, मुख्य राजस्व अधिकारी- 26 नवंबर

5- पंकज श्रीवास्तव, अपर नगर मजिस्ट्रेट प्रथम - 27 नवंबर

6- गजेंद्र कुमार, अपर नगर मजिस्ट्रेट द्वितीय - 28 नवंबर

7- सोमनाथ मिश्रा, बंदोबस्त अधिकारी, चकबंदी - 29 नवंबर

वर्जन..

राजीव रौतेला, जिला निर्वाचन अधिकारी सह डीएम, गोरखपुर