-शहर के विभिन्न एरिया में कटौती से गर्मी में लोग हुए बेहाल

GORAKHPUR: सिटी में बिजली कटौती की आंख मिचौली ने पब्लिक को परेशान कर रखा है. शुक्रवार को हुए बारिश के चलते हालात और खराब हो गए हैं. पादरी बाजार इलाके में सोमवार दोपहर करीब तीन घंटे तक कटौती हुई. वहीं, खोराबार जूही कॉलोनी में सुबह से ही बिजली का आना जाना लगा रहा. साथ ही लो वोल्टेज से उन्हें काफी परेशान किया.

पादरी बाजार के शिवपुर सहबाजगंज में दोपहर 12 बजे अचानक बिजली सप्लाई ठप हो गई. लोगों ने उपकेंद्र पर इसकी सूचना दी. काफी खोजबीन के बाद पता चला कि हाईटेंशन लाइन में फाल्ट की वजह से सप्लाई ठप हो गई है. इसे ठीक कर सप्लाई दोबारा शुरू करने में करीब 3 बज गए. ऐसे ही शाहपुर उपकेंद्र से जुड़े जंगल सालिकग्राम में भी दोपहर करीब दो बजे से सप्लाई बंद रही. इसे शाम चार बजे बहाल किया जा सका. सोमवार को दिन खुलने के साथ बिजली निगम के अफसर फाल्ट को मेंटेनेंस कराते रहे. ऐसे ही नॉमर्ल, लालडिग्गी, इंडस्ट्रियल इस्टेट, दुर्गाबाड़ी व सूरजकुंड उपकेंद्र से जुड़े इलाकों में करीब सोमवार को भी दोपहर में तीन से चार घंटे सप्लाई ठप रही.

24 घंटे सप्लाई की नहीं वैकल्िपक व्यवस्था

यूनिवर्सिटी फीडर से विद्यालय कैंपस, टीचर कॉलोनी और तीनों छात्रावास में निर्बाध सप्लाई में बड़ी बाधा है. यूनिवर्सिटी के इंजीनियरिंग के वर्कशॉप में एक भी आरक्षित ट्रांसफार्मर नहीं होने से आए दिन कटौती लंबी हो जाती है. दरअसल, विश्वविद्यालय से जुड़े इलाकों में सप्लाई के लिए सात ट्रांसफॉर्मर लगे हैं. इसमें एक भी खराब हो जाते हैं तो उसे जब तक बदल कर दूसरा नहीं लगाया जाता, तब तक सप्लाई प्रभावित होती है. शुक्रवार को भी यही हुआ. करीब 17 घंटे तक बिजली के संकट से एरिया के लोगों को जूझना पड़ा.

कोट

बिजली निगम नए सिरे से सभी जगह मेंटेनेंस का कार्य करा रहा है. बरसात के मौसम में कंज्यूमर्स को परेशानी न हो इसका ध्यान रखा जाएगा. निर्बाध सप्लाई के लिए हर सभव प्रयास किया जाएगा.

एके सिंह, एसई शहर

Posted By: Inextlive