- मोहल्लों में गोपनीय जानकारी जुटा रही थानों की पुलिस

- ड्रोन कैमरों से होगी निगरानी, दर्ज कराएंगे एफआईआर

GORAKHPUR: शहर में किसी तरह की आपात स्थिति से निपटने के लिए पुलिस खुद को तैयार करने में जुटी है. आतंकी हमलों के खुफिया अलर्ट के बाद से चौकसी बढ़ा दी गई है. शहर में जहां मॉक ड्रिल करके सुरक्षा एजेंसियां मुस्तैदी परख रही हैं. वहीं मोहल्लों में होने वाले किसी तरह के विवाद से निपटने के लिए भी तैयारी की गई है. छतों पर ईट और पत्थर मिलने पर पुलिस शिकंजा कस सकती है. ईट-पत्थर रखने वालों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराकर जेल भेजने की तैयारी की जा रही है. पुलिस अधिकारियों का कहना है कि कानून व्यवस्था को देखते हुए तैयारी की गई है. मॉक ड्रिल के जरिए तैयारी को अमलीजामा पहनाया जा रहा है.

छतों की जांच करके पुलिस करेगी कार्रवाई

जम्मू-कश्मीर को लेकर हुए बड़े बदलाव के बाद से सोशल मीडिया पर तरह-तरह की बयानबाजी हो रही है. इसका फायदा उठाते हुए कुछ लोग माहौल भी बिगाड़ सकते हैं. विभिन्न त्योहारों और 15 अगस्त पर किसी तरह की गड़बड़ी आशंका को लेकर भी पुलिस अलर्ट मोड में है. किसी भी तरह की अफवाह फैलाकर अराजकतत्व शहर का माहौल बिगाड़ सकते हैं. इसको देखते हुए घरों की छत पर ईट-पत्थर और कांच की बोतलें रखने के संबंध में भी जांच की जा रही है. यदि किसी मोहल्ले में किसी की छत पर कांच की बोतलें, ईंट और पत्थर मिले तो उसके खिलाफ कार्रवाई की तैयारी की गई है. इसलिए गोपनीय तरीके से पुलिस जांच कर रही है. पुलिस का कहना है कि जिनकी छत पर जमा किए ईट-पत्थर मिलेंगे. उनसे सवाल-जवाब किया जाएगा. यदि संतोषजनक बातें सामने नहीं आई तो मान लिया जाएगा कि वह किसी तरह के बवाल की तैयारी में लगे हैं.

मॉक ड्रिल से परख रहे मुस्तैदी, जारी रहेगा अभियान

खुफिया अलर्ट के बाद पुलिस के साथ-साथ अन्य सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट मोड में आ गई है. मंगलवार को एयरपोर्ट की सुरक्षा को लेकर अधिकारियों ने मंथन किया. एयरपोर्ट और रेलवे स्टेशन पर मॉक ड्रिल करके सुरक्षा एजेंसियों ने सुरक्षा व्यवस्था में सामने आई कमियों को दूर करने प्लान तैयार किया. एयरफोर्स स्टेशन के भीतर इंडियन एयरफोर्स और पुलिस अधिकारियों ने मॉक ड्रिल किया. इस दौरान एएसपी रोहन प्रमोद बोत्रे, सीओ गोरखनाथ प्रवीण कुमार सिंह, एटीएस, एसएसबी सहित अन्य एजेंसियों के अफसर मौजूद रहे. उधर रेलवे स्टेशन पर भी मॉक ड्रिल कराया गया. पुलिस, जीआरपी और आरपीएफ के जवानों की मौजूदगी में संदिग्ध वस्तुओं से बचने की हिदायत दी गई.

बढ़ेगी एयरपोर्ट की सुरक्षा, बदलेगी ड्यूटी

एयरपोर्ट पर फ्लाइट की तादाद बढ़ने की वजह से पैसेंजर्स की आवाजाही भी बढ़ गई है. इसको देखते हुए सुरक्षा व्यवस्था का दायरा बढ़ाया जा रहा है. एयरपोर्ट पर तैनात होने वाले पुलिस कर्मचारियों की ड्यूटी में भारी बदलाव होगा. एक शिफ्ट के बजाय पुलिस कर्मचारी दो शिफ्टों में काम करेंगे. एयरपोर्ट पर तैनात होने वाले पुलिस कर्मचारियों को हर आपातस्थिति से निपटने की ट्रेनिंग भी दी जाएगी. हाल के दिनों में हुए तबादलों से सुरक्षा में लगे पुलिस कर्मचारियों की ड्यूटी में फेरबदल हुआ था. इसकी जानकारी होने पर एडीजी ने फिर से प्लान तैयार करने को कहा है. जल्द ही भारी बदलाव नजर आने लगेगा.

वर्जन

आतंकी संगठनों की सक्रियता के मद्देनजर जारी अलर्ट, किसी तरह के बवाल की आशंका में चौकसी बढ़ा दी गई है. सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने वालों से पुलिस सख्ती से निपटेगी. पुलिस की सक्रियता को परखने के लिए मॉक ड्रिल कराया जा रहा है. यह अभियान आगे भी जारी रहेगा.

- दावा शेरपा, एडीजी गोरखपुर जोन