जीएसटी काउंसिल 2016-17 के एनुअल रिटर्न को यूं ही करे स्वीकार

prayagraj@inext.co.in

PRAYAGRAJ: कंफेडरेशन ऑफ आल इंडिया ट्रेडर्स कैट के इलाहाबाद इकाई की कोर कमेटी मीटिंग सिविल लाइंस स्थित कस्बा रेस्टोरेंट में हुई. जिसमें जीएसटीआर-9 पर चर्चा की गई. व्यापारियों ने कहा कि पोर्टल द्वारा स्वत: बनाए गए जीएसटीआर-2ए का मिलान नहीं हो पा रहा है. साथ ही किसी चार्टर्ड एकाउंटेंट व टैक्स प्रैक्टिशनर को इसकी पूरी तरह जानकारी नहीं है. न ही विभाग का कोई अधिकारी किसी समस्या को सुलझा पा रहा है. सबसे बड़ी समस्या यह है कि ऐसे खरीद के बिल जिनकी इनपुट टैक्स क्रेडिट ली जा चुकी है और वह विक्रेता द्वारा अपलोड न करने या किसी अन्य कारण से पोर्टल पर नहीं दिख रहे हैं. उसके टैक्स को खरीददार को जमा करना होगा, जोकि कहीं से भी सही नहीं है. सबकी मांग थी कि नई सरकार सबसे पहले 2017-18 के वार्षिक विवरणी को जैसा है, जहां है की तर्ज पर स्वीकार करें.

स्वास्थ्य की चिंता नहीं करते व्यापारी

कैट के संरक्षक डा. बीबी अग्रवाल ने कहा कि किसी व्यापारी के पास अपने लिए समय नहीं है. अपने परिवार के स्वास्थ्य की चिंता तो रहती है, पर अपने स्वास्थ का उसे कोई ज्ञान नहीं होता. सृजन हॉस्पिटल प्राइवेट लिमिटेड द्वारा 31 मई को विश्व तंबाकू निषेध दिवस के अवसर पर व्यापारी और उनके परिवार के लिए नि:शुल्क स्वास्थ्य परीक्षण शिविर का आयोजन किया जाएगा. यही नहीं व्यापारी और उनके कर्मचारियों को कार्ड बनाकर दिया जाएगा. कैट के प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र गोयल ने कहा कि हम तो भूल ही गए थे कि व्यापारी भी बीमार पड़ता है. विभु अग्रवाल, मनोज अग्रवाल, अजय गुप्ता, अजय अग्रवाल, धनेंद्र केसरवानी, राजेश अग्रवाल, अशोक ब्रिटानिया, राजमोहन पुरवार, संदीप केसरवानी, अजय अवस्थी, तरुण सावला, प्रकाश केसरवानी, आशुतोष गोयल, तरंग अग्रवाल आदि मौजूद रहे.