- ओपीडी, आईपीडी के पर्चे का नहीं बढ़ेगा शुल्क

- पुराने शुल्क रहेंगे यथावत, मरीजों को बड़ी राहत

DEHRADUN: नए साल पर दून अस्पताल में यूजर चार्ज नहीं बढ़ाए जाएंगे. अस्पताल में पड़ने वाला शुल्क पहले की तरह ही लिया जाएगा. इनमें ओपीडी व आईपीडी का पर्चा शुल्क भी शामिल है.

सैकड़ों मरीज पहुंचते हैं दून

दून अस्पताल में राजधानी ही नहीं आसपास के कई इलाकों से रोजाना सैकड़ों लोग इलाज को पहुंचते हैं. दून अस्पताल में बड़ी संख्या में गरीब मरीज भी पहुंचते हैं, जो प्राइवेट क्लीनिक की मंहगी फीस वहन नहीं कर पाते. ऐसे में दून अस्पताल में सीनियर, अनुभवी डॉक्टरों से इलाज करवाने के साथ-साथ सभी प्रकार की सुविधाएं भी मिल जाती हैं, जिनमें महंगी जांचें भी शामिल हैं.

हर साल बढ़ता है चार्ज

स्वास्थ्य विभाग हर साल सूबे के अस्पतालों में लिया जाने वाला शुल्क बढ़ाता है. यूजर चार्ज में हर साल क्0 परसेंट का इजाफा किया जाता है, यह व्यवस्था सूबे के सभी सरकारी अस्पतालों पर लागू होती है. लेकिन, इस साल दून अस्पताल में यूजर चार्ज न बढ़ाए जाने का निर्णय लिया गया है. दून अस्पताल अब मेडिकल कॉलेज का अस्पताल है, जिस वजह से यहां की सुविधाओं के एवज में लिए जाने वाले शुल्क में बढ़ोत्तरी नहीं होगी, जिसमें ओटी, ओपीडी,आईपीडी, पैथोलॉजी की जांचों का शुल्क भी शामिल है.

---------

दून अस्पताल में लिए जाने वाले शुल्क में इस साल कोई बढ़ोतरी नहीं होगी. ओपीडी के पर्चे के साथ ही किसी तरह के शुल्क में कोई बदलाव नहीं होगा. पुराने शुल्क यथावत रहेंगे.

डॉ. केके टम्टा, एमएस, दून अस्पताल.