dehradun@inext.co.in
RUDRAPRAYAG: केदारनाथ के लिए हेली सेवा का संचालन करने वाली सभी नौ हेली कंपनियों ने अपना बोरिया-बिस्तर समेट लिया है. अब दोबारा हेली सेवाओं का संचालन सितंबर से शुरू होगा. इस बार यात्रा के प्रथम चरण में 1.11 लाख यात्रियों ने हेली सेवा से बाबा केदार के दर्शन किए.

16 मई से शुरू हुआ था संचालन
इस बार केदारनाथ धाम के लिए 16 मई से हेली सेवाओं का संचालन शुरू हुआ. लेकिन, बरसात के चलते लगातार मौसम खराब रहने के कारण सात हेली कंपनियां जून आखिर में वापस लौट गई. इसके बाद से शेष दो कंपनियां इंडोकॉप्टर व थंबी एविऐशन ही अपनी सेवाएं दे रही थी. हालांकि, मौसम अत्याधिक खराब होने के कारण गत 11 जुलाई से इनकी उड़ानें भी नहीं हो सकीं. ट्यूजडे को इन दोनों कंपनियों ने बोरिया-बिस्तर समेट लिया. सहायक नोडल अधिकारी सीएस पंवार ने बताया कि इस बार हेली सेवा से कुल 110996 यात्रियों ने बाबा के दर्शन किए. इसके लिए सभी नौ हेली कंपनियों ने 11340 उड़ानें भरी. बताया कि अब धाम के लिए दोबारा हेली सेवाएं सितंबर से शुरू होंगी. विदित हो कि हर वर्ष केदारनाथ के लिए दो चरणों में हेली सेवाएं संचालित होती हैं. जुलाई व अगस्त में घनघोर बरसात होने के कारण उड़ान भरना संभव नहीं रहता. इसलिए जून आखिर तक सभी कंपनियां वापस लौट जाती हैं.