लखनऊ (ब्यूरो)। अयोध्या पर आने वाले 'सुप्रीम फैसले' को लेकर पुलिस ने अपनी तैयारियों में तेजी पकड़ ली है। फैसले के बाद अयोध्या में किसी भी स्थिति से निपटने के लिये अयोध्या पुलिस हरकत में आ गई है। डीजीपी मुख्यालय से मंजूरी मिलने के बाद अयोध्या व आसपास 10 अस्थायी जेलों को बनाने की योजना है। बताया गया कि इनमें से पांच जेलों के लिये जगह चिन्हित भी कर ली गई हैं, बाकी के लिये कवायद जारी है।

उत्साहित भीड़ को काबू करने की तैयारी

माना जा रहा है कि फैसला आने के बाद अयोध्या में उत्साहित लोगों की भीड़ में अचानक इजाफा हो सकता है। यह लोग अति उत्साह में कोई गलत हरकत भी कर सकते हैं। ऐसे ही लोगों को संभालने के लिये अयोध्या में पुलिस विशेष तैयारी कर रही है। इसके लिये अयोध्या में एंट्री के लिये कम और बाहर निकलने के लिये ज्यादा रास्ते बनाए जा रहे हैं। सूत्रों के मुताबिक, शहर में प्रवेश के लिये 4 प्रमुख एंट्री प्वाइंट्स बनाए जा रहे हैं, जहां से लोगों को तमाम तलाशी के बाद व्यवस्थित तरीके से प्रवेश दिया जाएगा। जबकि, 16 एग्जिट गेट भी बनाए जा रहे हैं। जहां से लोग शहर से बाहर निकल सकेंगे।

बेकाबू भीड़ के लिये अस्थायी जेल

इस दौरान अगर उत्साहित लोगों की भीड़ बेकाबू हो जाती है तो उन्हें अस्थायी जेलों में बंद करने की योजना है। डीजीपी मुख्यालय सूत्रों ने बताया कि अस्थायी जेल स्टेडियम, बड़े कॉलेज, स्कूल व अन्य बड़े कैंपस में बनाई जाएंगी। बताया गया कि फिलवक्त अयोध्या स्थित स्टेडियम के अलावा पांच जगहों को चिन्हित कर लिया गया है। जबकि, बाकी के लिये कवायद जारी है। हालांकि, यह अस्थायी जेल कहां बनाई जा रही हैं, इसकी जानकारी सुरक्षा कारणों की वजह से नहीं दी जा रही है और न ही कोई अधिकारी इस पर कुछ भी बोलने को तैयार है।

बढ़ेगी फोर्स की तैनाती

सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर अयोध्या में सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। फिलवक्त अयोध्या में 47 कंपनी पैरामिलिट्री फोर्स, 15 कंपनी पीएसी के अलावा पुलिस फोर्स को तैनात किया गया है। वहीं, खुफिया विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक फोर्स में और भी इजाफे की योजना है। इसके अलावा प्रदेश के मिश्रित आबादी वाले 17 जिलों को संवेदनशील के रूप में चिन्हित किया गया है। इन जिलों में कानपुर नगर, बहराइच, श्रावस्ती, गोंडा, अलीगढ़, मेरठ शामिल हैं। इन जिलों में खुफिया एजेंसियां लगातार अपनी नजर रख रही हैं। साथ ही इन जिलों में सर्वाधिक संवेदनशील मोहल्लों व इलाकों की सूची बनाई जा रही है। इसी रिपोर्ट के आधार पर वहां फोर्स की तैनाती की जाएगी। शरारती तत्वों पर भी विशेष निगाह रखी जा रही है।

lucknow@inext.co.in

Posted By: Dhananjay Shukla

National News inextlive from India News Desk

inext-banner
inext-banner