4 जी नेटवर्क से जुड़ गए हैंड होल्ड डिवाइस

3 जी नेटवर्क से 5 से 10 मिनट में हो पाता था चालान

400 चालान रोजाना हो रहे हैं इन दिनों

1200 चालान एक माह में काटे जा रहे हैं

ट्रिपलिंग करके वाहन चलाने वालों के भी काटे जाते है खूब चालान

22 लाख 27,100 रूपये के चालान किए गए जुलाई में

15 लाख 16,400 रूपये के चालान किए गए अगस्त में

13 लाख 86,400 रूपये का रेवन्यू कलेक्शन हुआ सितंबर में

10 लाख के ई चालान किए गए हैं अक्टूबर माह में

4 जी से चालान होने से हो रही समय की बचत

Meerut। ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करने पर अब पल भर में चालान किया जा रहा है। दरअसल, 4 जी नेटवर्क के कारण चालान की प्रक्रिया में तेजी आई है। गौरतलब है कि पहले 3 जी नेटवर्क व्यवस्था होने के कारण चालान प्रक्रिया में देरी होती थी। अब एक दिन में रोजाना करीब 400 चालान सीट बेल्ट, हेलमेट और ट्रिपलिंग के सबसे ज्यादा हो रहे है।

12 हजार तक हो रहे चालान

ट्रैफिक पुलिस के ई-चालान के अभियान में एक महीने में करीब 12 हजार चालान हो रहे है। वहीं एक दिन में 400 चालान हो रहे हैं। 4 जी नेटवर्क व्यवस्था से ई-चालान होने से संख्या बढ़ रही है, जिससे विभाग का रेवन्यू भी बढ़ रहा है। पहले 3 जी नेटवर्क व्यवस्था होने में काफी देर लगती थी।

4 जी नेटवर्क के तहत अब ई-चालान हो रहे है। ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करने पर चालान हो रहे हैं। पहले 3 जी नेटवर्क से चालान करने में दिक्कत होती थी और समय अधिक लगता था।

संजीव वाजपेयी, एसपी ट्रैफिक

Posted By: Inextlive

inext-banner
inext-banner