चंडीगढ़ (पीटीआई)। रेलवे ने बुधवार को हेरिटेज कालका-शिमला रूट पर सात कोच की ग्लास वाली विस्टाडोम ट्रेन सेवा की शुरुआत की। लाल रंग की ट्रेन, जिसे गुब्बारों से सजाया गया था, हरियाणा में कालका रेलवे स्टेशन सुबह 7 बजे रवाना हुई, रेलवे के एक अधिकारी ने पीटीआई को बताया।

100 यात्रियों की क्षमता वाली ट्रेन
अधिकारी ने बताया कि 'हिम दर्शन' ट्रेन में 100 से अधिक यात्रियों की बैठने की क्षमता और है पीक टूरिस्ट सीजन और न्यू ईयर के मद्देनजर अगले कुछ दिनों तक बुकिंग फुल हैं। इस साल की शुरुआत में, रेलवे ने नैरो गेज रूट पर चलने वाली ट्रेन में केवल एक सी-थ्रू विस्टाडोम कोच लगाया था, लेकिन यात्रियों की ओर से मिली प्रतिक्रिया के बाद अब पूरी ट्रेन को ऐसा ही बना दिया गया है। इस मार्ग पर अब टूरिस्‍ट दुनिया की चुनिंदा हेरिटेज रेलवेज में से एक में शिमला तक के सफर में बारिश और बर्फ का अनुभव इन कांच से घिरे कोच में कर पाएंगे।

पैनोरामिक व्‍यू
ट्रेन में सवार एक परिवार ने कालका में मीडिया को बताया कि 'पारदर्शी छतों के साथ प्रकृति का आनंद लेना बहुत अच्छा लगता है क्योंकि यह पैनोरामिक व्‍यू देता है। हम भी कुछ दिनों में लौटेंगे और उम्‍मीद आशा है कि हमें ट्रेन में बैठे-बैठे बर्फबारी का मजा लेने का मौका मिलेगा।'

प्रकृति के करीब होने का अहसास
विस्टाडोम कोचों के आलीशान इंटीरियर को शानदार ढंग से सजाया गया है और पर्यटक 95.5 किमी लंबा रास्‍ता बड़ी ग्‍लास विंडोज वाली एसी ट्रेन में प्रकृति के समीप होने के अहसास को करीब से महसूस कर पाएंगे।

Posted By: Mukul Kumar

National News inextlive from India News Desk

inext-banner
inext-banner