मुंबई (फीचर-डेस्क)। हिमेश रेशमिया की टोपी, उनकी नेजल आवाज और पुराने अंदाज की वापसी हो चुकी है। एक तरफ जहां क्रिटिक्स के बीच बहस चल रही है कि पुराने हिट गानों के लगातार आ रहे अलग-अलग वर्जन्स म्यूजिक इंडस्ट्री का क्रिएटिव दिवालियापन दिखा रहे हैं, वहीं यह एक्टर-सिंगर-कम्पोजर 2006 में आई मूवी 36 चाइना टाउन के अपने सुपरहिट गाने 'आशिकी में तेरी' को अपनी अगली मूवी हैप्पी हार्डी एंड हीर में अलग अंदाज में पेश कर रहा है।

पूरी कर दी अपने फैन्स की ख्वाहिश

अपने इस गाने को लेकर हिमेश का कहना है, 'यह आशिकी में तेरी 2.0 है और इसकी ट्यून फ्रेश है। इस गाने के छह फेज में से तीन पूरी तरह ओरिजनल हैं जबकि हमने ओरिजनल कम्पोजीशन को बाकी के हिस्से में यूज किया है। मेरे फैन्स मुझे टोपी में देखना पसंद करते हैं इसलिए मैंने गाने में यह लुक भी लिया है। मैंने नेजल साउंड भी किया है क्योंकि लोग इसे पसंद करते हैं।'

बॉलीवुड में लेटेस्ट म्यूजिक संसेशन रानू मंडल ने हिमेश रेशमिया के साथ रिकॉर्ड किया तीसरा गाना

'कम्पोजर्स की भी लें इजाजत'

जब उन्हें बताया गया कि उनके साथी विशाल भारद्वाज गानों का रीमिक्स किए जाने से खुश नहीं हैं, तो हिमेश बोले, 'मैं मानता हूं कि क्रिएटिव दिवालियापन है लेकिन मुझे नहीं लगता कि रीमिक्स करना बंद होना चाहिए। विशाल सही हैं, अगर रॉयल्टी और क्रेडिट दिया जाता है, जरूरी परमीशन ली जाती है तो कोई प्रॉब्लम नहीं होनी चाहिए। हालांकि, जब ओरिजनल कम्पोजर को क्रेडिट दिया जाए तो उसे अच्छे से दिखाना चाहिए नाकि यूट्यूब पर छोटे फॉन्ट में मेंशन करना चाहिए। जो लोग गाना रीक्रिएट कर रहे हैं उन्हें म्यूजिक कंपनी के साथ-साथ कम्पोजर्स की भी इजाजत लेनी चाहिए।'

sonil.dedhia@mid-day.com

रानू मंडल का 'तेरी मेरी कहानी' सॉन्ग हुआ रिलीज, प्रेस कॉन्फ्रेंस में दिखा कान्फिडेंट अंदाज

Posted By: Vandana Sharma

Bollywood News inextlive from Bollywood News Desk