- घरों में लगेंगे चिप वाले डस्टबिन, कचरा उठते ही निगम के पास आएगा अपडेट

-गाडि़यों की मूवमेंट पर भी जीपीएस से मॉनिटरिंग

-1.82 लाख हाउस होल्डर्स है निगम के पास रजिस्टर्ड

-हर घर को चिप वाले दो डस्टबिन देगी एजेंसी

vivek.sharma@inext.co.in

RANCHI (8 Nov) : रांची नगर निगम राजधानी में डोर टू डोर कलेक्शन को बेंगलुरू की तर्ज पर हाईटेक बनाने जा रहा है। इसके तहत हर घर में अब चिप लगे ट्विन डस्टबिन होंगे। ऐसे में लोगों को उसी डस्टबिन में कचरा डालना होगा। वहां से कचरा उठते ही उसकी अपडेट कंट्रोल रूम में चली जाएगी, जिससे कि वेस्ट कलेक्शन के पल-पल की खबर रांची नगर निगम के पास होगी। इतना ही वेस्ट कलेक्शन के हिसाब से ही रांची नगर निगम एजेंसी को पेमेंट करेगा। बताते चलें कि वेस्ट कलेक्शन के लिए एजेंसी के सेलेक्शन की प्रक्रिया चल रही है। विभाग से मंजूरी मिलते ही इसे शहर में लागू कर दिया जाएगा।

चार लाख डस्टिबन बंटेंगे

नगर निगम क्षेत्र में अबतक एक लाख 82 हजार हाउस होल्डर्स रजिस्टर्ड है। वहीं बचे हुए घरों को भी नगर निगम में रजिस्टर्ड करने की योजना है। नई सफाई व्यवस्था के तहत एजेंसी हर घर में चिप लगे दो डस्टबिन बांटेगी। ऐसे में पूरे शहर के लिए लगभग चार लाख डस्टबिन की जरूरत पड़ेगी। यह डस्टबिन लोगों को एजेंसी फ्री में उपलब्ध कराएगी, जिसकी मॉनिटरिंग जीपीएस से होगी। वहीं कचरा उठते ही चिप की मदद से उसकी अपडेट मिल जाएगी।

मॉडर्न टेक्निकल का इस्तेमाल

सफाई व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए अब मॉडर्न टेक्निक का यूज किया जा रहा है। इसके तहत कूड़ा उठाने वाली गाड़ी और घरों डस्टबिन पर चिप लगा होगा। इससे एक दिन भी कूड़ा उठाव, गाडि़यों की मूवमेंट पर भी नजर रखी जा सकेगी। वहीं गाडि़यां एक दिन में कितना एरिया कवर रही है इसकी भी जानकारी मिलती रहेगी। कंट्रोल रूम से इन सभी चीजों की मॉनिटरिंग की जाएगी।

किस घर से निकला िकतना कचरा

सिटी के पॉश इलाकों को छोड़ अब भी कई इलाकों में रेगुलर डोर टू डोर कलेक्शन नहीं हो पाता। इसे लेकर लोगों ने कई बार नगर निगम को कंप्लेन भी की थी। अब गाडि़यों के नहीं पहुंचने की स्थिति में लोगों को कंप्लेन करने की जरूरत ही नहीं होगी। चूंकि नगर निगम के कंट्रोल रूम को पता चल जाएगा कि किन इलाकों में कचरे का उठाव हो गया है और किन इलाकों में नहीं। इसके अलावा यह भी जानकारी मिलेगी कि किस घर से कितना कचरा ि1नकला है।

ये होगा फायदा

-हर दिन कितना गीला और सूखा कचरा निकला

-कूड़ा उठाने वालों की मिलेगी पल-पल की अपडेट

-कंप्लेन का जल्द किया जाएगा समाधान

यहां चल रहा प्रोजेक्ट

-बेंगलुरू, सूरत

अब सिटी में वेस्ट कलेक्शन का काम पूरा एजेंसी का होगा। जितने घरों से डेली कचरा उठेगा नगर निगम उसी का पेमेंट करेगा। बाकी काम, स्टाफ्स, मेंटेनेंस का जिम्मा एजेंसी का होगा। इसके लिए स्वच्छता कारपोरेशन को सेलेक्ट कर लिया गया है। इलेक्शन कमीशन से परमिशन मिलने के बाद हमलोग एग्रीमेंट साइन करेंगे जो पांच सालों के लिए होगा। अगले साल तक इंदौर की तरह ही हमारी सिटी भी साफ होगी।

मनोज कुमार, नगर आयुक्त, आरएमसी

Posted By: Inextlive

inext-banner
inext-banner