-शासन से मांगा गया हाउस टैक्स की चालू मांग, बकाया और ब्याज की पेंडिंग धनराशि का विवरण

kanpur@inext.co.in

KANPUR : नगर निगम के वित्तिय संकट को खत्म करने के लिए अब शासन स्तर से पहल शुरू हुई है. नगर निगम की आय का बड़ा और मुख्य स्त्रोत हाउस टैक्स ही है. बकाया वसूली को बढ़ाने के लिए नगर निगम में वन टाइम सेटेलमेंट (ओटीएसस) योजना लागू की जा सकती है. शहर में भी हाउस टैक्स से जुड़े हजारों मामले ऐसे हैं जो विवादित हैं और उनका अगर सेटेलमेंट न होने से हाउस टैक्स पिछले कई सालों से जमा ही नहीं किया गया है. शासन से हाउस टैक्स के बकाया, चालू मांग और ब्याज की पेंडेंसी की डिटेल मांगी गई है. जिससे यह तय किया जा सके कि ओटीएस लागू करने के बाद इससे वसूली बढ़ेगी या नहीं. लखनऊ नगर निगम में ओटीएस को लागू किया गया था, जिससे नगर निगम को 500 करोड़ से ज्यादा का लाभ हुआ. इससे उत्साहित अधिकारियों ने भी नगर निगम कानपुर में इस योजना को लागू करने का मन बनाया है. मामले में अपर नगर आयुक्त अमृत लाल बिंद ने बताया कि रिपोर्ट तैयार की जा रही है.