कानपुर। बता दें कि इस घटना में तो एक लड़की की समझदारी से हिडेन कैमरा पकड़ लिया गया, लेकिन हर जगह ऐसा कर पाना आसान नहीं होगा। ऐसे में आप जरूर सोच रहे होंगे कि स्मार्टफोन की एप को तो आप कंट्रोल कर सकते हैं, लेकिन छुपे हुए कैमरे की पहचान कैसे करेंगे, तो चलिए जानते हैं इसके तरीके के बारे में..

हिडेन कैमरे का पता कैसे लगाएं
हिडेन कैमरा थोड़ा बड़ा या फिर बटन के बराबर भी हो सकता है। ऐसे में इसे ढ़ूंढ़ने के लिए आपको थोड़ी मशक्कत करनी होगी। हालांकि इसका पता लगाने के लिए आपको माइक्रोफोन या फिर कैमरा डिटेक्टर लेकर चलने की जरूरत नहीं है, बल्कि आपका मोबाइल ही यह काम आसानी से कर सकता है। इसके लिए आपको अपने फोन में हिडेन कैमरा डिटेक्टर एप को डाउनलोड करना होगा। इसका उपयोग बेहद आसान है। बता दें कि हिडेन कैमरा खोजने के लिए एंड्रॉयड प्लेस्टोर पर कई एप मौजूद हैं, पर आप सबसे पॉपुलर एप ही इंस्टॉल करें।

how to: शॉपिंग मॉल का चेंजिंग रूम हो या फिर पब्लिक टॉयलेट,बचकर रहें हिडेन कैमरा से,यह है आसान तरीका

हिडेन कैमरा को डिटेक्ट करने का यह है तरीका
इंस्टॉल करते ही एक क्लिक में यह अपना काम शुरू कर देता है। जब आप इस एप को इंस्टॉल करेंगे, तो यह शुरुआत में कुछ एक्सेस मांगेगा, आपको इसे ओके करके आगे बढ़ना है। एक बार जब यह इंस्टॉल होता है, तो सबसे पहले डिटेक्ट कैमरा बाय रेडिएशन मीटर का ऑप्शन आएगा। इसके अलावा, यहां डिटेक्ट इंफ्रारेड कैमरा, टिप्स ऐंड ट्रिक्स और पेड एप का भी विकल्प दिया गया है। डिटेक्ट कैमरा बाई रेडिएशन मीटर को क्लिक करते ही एप अपना काम शुरू कर देगा। इस दौरान फोन की स्क्रीन पर एक गोल सर्किल दिखाई देगा। वहीं नीचे एक सीधी रंगीन लाइन दिखाई देगी। लाइन की पट्टी पर आपको सूचना मिलती रहेगी कि आसपास कोई कैमरा या माइक्रोफोन है या नहीं। जैसे ही आपको कोई सिग्नल मिले उस ओर फोन को ले जाएं और आसपास की चीजों को स्कैन करें। जैसे ही कैमरा या माइक्रोफोन रेडिएशन इसे मिलेगा फोन पर दिख रही सीधी लाइन जिग-जैग करने लगेगी। वहीं कैमरा या माइक्रोफोन डिटेक्ट करते ही यह लाइन रेड हो जाएगी और डिटेक्ट का अलार्म बजना शुरू हो जाएगा।

how to: शॉपिंग मॉल का चेंजिंग रूम हो या फिर पब्लिक टॉयलेट,बचकर रहें हिडेन कैमरा से,यह है आसान तरीका

इस एप का पेड वर्जन करता है और भी कमाल
सकी खासियत यह है कि यह एप मोबाइल, कंप्यूटर और सीसीटीवी कैमरे की भी सूचना देता है। हां, यदि रेडिएशन ज्यादा है, तो पूरी लाइन काली हो जाएगा और नीचे की लाइन स्क्रीन के ऊपर मूव करने लगेगी। इससे आप समझ सकते हैं कि यहां कुछ गड़बड़ जरूर है और आपको वहां पर कपड़े नहीं बदलने चाहिए। इसके अलावा, इस एप का इन्फ्रारेड कैमरा फीचर भी अच्छा काम करता है और कम रोशनी में ही बता देता है कि कोई हिडेन कैमरा छिपा है। इसका पेड वर्जन भी ज्यादा महंगा नहीं है, साथ ही उसमें कुछ नए शानदार फीचर भी उपलब्ध हैं।

Posted By: Chandramohan Mishra

Technology News inextlive from Technology News Desk