सैन फ्रांसिस्को (आईएएनएस)। अमेरिका के करीब 400 वर्तमान और पूर्व पुलिस अधिकारी फेसबुक पर घृणा फैलाने वाले ग्रुप का हिस्सा हैं। इन समूहों में इस्लाम विरोधी और नस्ली विचारधारा को बढ़ावा दिया जाता है।रिवील नाम के गैर-लाभकारी संगठन की एक रिपोर्ट में इस बात का दावा किया गया है। रिपोर्ट में बताया गया है कि फेसबुक पर इस तरह के ग्रुप्स से जुड़े पुलिस अधिकारी जेल, स्कूल, एयरपोर्ट और अन्य खास जगहों पर तैनात हैं। जिस ग्रुप में यह अधिकारी एक्टिव रहते हैं, उनमें से कुछ खुलकर इस्लाम का विरोध करते हैं। इसके अलावा कुछ ग्रुप्स में सरकार के विरोध पर भी चर्चा होती है। हिंसक सरकार विरोधी समूहों से करीब 150 पुलिस अधिकारी जुड़े हैं।

नीति आयोग की पहली बैठक आज, बैठक से पहले इन मुख्यमंत्रियों ने पूर्व पीएम मनमाेहन से ली सलाह

एक अधिकारी हो चुका बर्खास्त

बता दें कि यह रिपोर्ट के सामने आने के बाद 50 से अधिक सरकारी विभाग इस विषय पर आंतरिक रूप से जांच कर रहे हैं। विभाग इस बात की भी जांच कर रहे हैं कि सोशल मीडिया पर अधिकारियों की विचारधारा से उनके कामकाज पर क्या असर पड़ रहा है। विभाग के नियमों का उल्लंघन करने के लिए फिलहाल एक अधिकारी को बर्खास्त भी किया जा चुका है। चैपमैन यूनिवर्सिटी के एसोसिएट प्रोफेसर पीटर सिमी ने कहा, 'इन ग्रुप्स में होने वाली बात से व्यक्ति के फैसले पर काफी फर्क पड़ता है। दुनिया के बारे में हम जैसा सोचते हैं, वैसे ही निर्णय लेते हैं। यह करना बहुत मुश्किल है कि कोई व्यक्ति अपने विचार और फैसले को अलग-अलग रख सके।'

Posted By: Mukul Kumar

International News inextlive from World News Desk