नई दिल्ली (पीटीआई)। दिल्ली की एक लड़की शनिवार सुबह भारत में महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराधों और हैदराबाद में महिला पशु चिकित्सक के साथ कथित दुष्कर्म और हत्या की घटना के खिलाफ संसद के बाहर अकेले धरने पर बैठ गई। पुलिस ने बताया कि संसद के बाहर प्रदर्शन करने को लेकर उसे हिरासत में ले लिया गया लेकिन कुछ ही देर बाद उससे पूछताछ कर रिहा भी कर दिया गया। उन्होंने बताया कि अनु दुबे के नाम से पहचानी जाने वाली लड़की संसद के गेट नंबर 2-3 के पास फुटपाथ पर बैठकर 'मैं अपने भारत में खुद को सुरक्षित महसूस क्यों नहीं कर सकती' के नारे के साथ धरना दे रही थी।

थाने से रिहा हुई लड़की

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि लड़की से कहा गया कि वह जंतर मंतर पर जाकर विरोध प्रदर्शन करे क्योंकि संसद के पास ऐसा करने की अनुमति नहीं है लेकिन जब उसने वहां से जाने इनकार कर दिया तो उसे पुलिस वाहन में संसद मार्ग पुलिस स्टेशन ले जाया गया। कुछ अधिकारियों ने उसकी शिकायतों को सुनने के बाद, उसे थाने से रिहा कर दिया। मीडिया से बातचीत के दौरान दुबे ने कहा कि वह सरकारी अधिकारियों से मिलना चाहती है। वहीं, दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने आरोप लगाया कि अनु को पुलिस ने पीटा। उन्होंने कहा, 'हैदराबाद में दर्दनाक दुष्कर्म की घटना से परेशान, जब एक छात्रा ने अपनी आवाज उठाना चाहा, तो दिल्ली पुलिस ने उसे हिरासत में लिया और पीटा।& मैं पुलिस स्टेशन में लड़की से मिला, वह डरी हुई है। क्या यह उन लोगों का भाग्य होगा जो अपनी आवाज उठाते हैं? इस शर्मनाक घटना को लेकर DCW नोटिस जारी करेगी। इसमें शामिल लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की जानी चाहिए। हालांकि, पुलिस ने आरोपों से इनकार किया है।

Hyderabad Murder Case: हैदराबाद पुलिस ने चार आरोपियों को किया गिरफ्तार

हैदराबाद मामले के बाद अनु ने किया प्रदर्शन

दुबे का विरोध प्रदर्शन हैदराबाद के बाहरी इलाके में एक 27 वर्षीय महिला पशु चिकित्सक के शव मिलने के एक दिन बाद हुआ है, जिसने राष्ट्रीय स्तर पर आक्रोश फैलाया है। उसके साथ कथित तौर पर चार पुरुषों ने दुष्कर्म किया और उसकी हत्या कर दी। इसके अलावा रांची में, 25 वर्षीय लॉ की छात्रा के साथ भी हाल ही में कुछ बंदूकधारी लोगों के एक समूह ने कथित तौर पर सामूहिक दुष्कर्म किया। हालांकि, बाद में सभी 12 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया।

Posted By: Mukul Kumar

National News inextlive from India News Desk

inext-banner
inext-banner