कानपुर। Hyderabad Encounter हैदराबाद में महिला डाॅक्टर के दुष्कर्म और हत्या के आरोपी चार युवकों का गुरुवार तड़के एनकाउंटर कर दिया गया। पुलिस के मुताबिक आरोपियों ने भागने की कोशिश की थी, जिसके बाद सेल्फ डिफेंस में पुलिस को गोली चलानी पड़ी और चारों आरोपियों की मौके पर मौत हो गई। इस बात की पुष्टि साइबराबाद पुलिस कश्मिनर वीसी सज्जनार ने की है। यह केस उन्हीं की देखरेख में चल रहा था। अब एनकाउंटर के बाद वीसी सज्जनार के पुराने मामले भी चर्चा में आ गए हैं।


कहां जाता है एनकाउंटर स्पेशलिस्ट
वीसी सज्जनार को एनकाउंटर स्पेशलिस्ट के नाम से जाना जाता है। साइबराबाद पुलिस जब महिला डाॅक्टर की हत्या और दुष्कर्म के मामले की जांच कर रही थी तब पुलिस टीम की कमान सज्जनार के हाथों में ही थी। ऐसे में जब फिर से आरोपियों का एनकाउंटर हुआ तो सज्जनार के पुराने मामले भी सामने आने लगे हैं। दरअसल 11 साल पहले सज्जनार ने ऐसा ही एक और एनकाउंटर किया था।

11 साल पहले एसिड अटैक की कर रहे थे जांच
साल 2008 में वारंगल जिले में एक एसिड अटैक केस की जांच सज्जनार ही कर रहे थे। उस वक्त वह सज्जनार वारंगल जिले के एसपी हुआ करते थे। मुंबई मिरर की रिपोर्ट के मुताबिक, दिसंबर 2008 में तीन लड़कों ने स्कूटी से काॅलेज जा रही दो लड़कियों पर एसिड फेंक दिया था। दरअसल एक लड़की ने मुख्य आरोपी के प्रस्ताव को ठुकरा दिया था। एसिड के हमले में एक लड़की की मौके पर मौत हो गई थी। जिसके बाद वहां की जनता में भारी आक्रोश पैदा हो गया।


आरोपी लड़कों का किया था एनकाउंटर
सज्जनार ने केस की छानबीन करते हुए आरोपी तीनों लड़कों को अरेस्ट कर लिया। बाद में उन लड़कों ने अपना जुर्म भी कबूल लिया। फिर इन आरोपियों को क्राइम सीन पर ले जाया गया। वहां पर लड़कों ने भागने की कोशिश की जिसके बाद डिफेंस में पुलिस को गोली चलानी पड़ी और तीनों का एनकाउंटर कर दिया गया।

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari

National News inextlive from India News Desk