लखनऊ (ब्यूरो)। सूडा के डायरेक्टर आईएएस उमेश प्रताप सिंह की पत्नी की गोली लगने से संदिग्ध हालात में रविवार दोपहर मौत हो गई थी। घटना के चार दिन बाद पत्नी के चचेरे भाई की तहरीर पर चिनहट पुलिस ने केस दर्ज किया। वहीं पुलिस एफएसएल की रिपोर्ट का इंतजार रही है, जिसके बाद पुलिस की जांच को दशा दिशा मिलेगी।

चचेरे भाई की तहरीर पर केस दर्ज

सूडा डायरेक्टर उमेश प्रताप सिंह की पत्नी स्वर्गीय अनीता के चचेरे भाई राजीव सिंह की तहरीर पर चिनहट पुलिस ने हत्या व साक्ष्य मिटाने का केस दर्ज किया है। उनका कहना है कि उमेश प्रताप सिंह बहन के साथ मारपीट करते थे। उनकी प्रताडऩा के चलते वह डिप्रेशन में रहने लगी थी। इसके अलावा कई और गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने यह भी आरोप लगाए कि अनीता को गोली लगने के 2 घंटे बाद पुलिस को सूचना दी।

पिता के पक्ष में आई बेटी

आईएएस की बेटी उपासना ने पिता का बचाव करते हुए आरोपों को गलत बताया। हालांकि घटना के समय उनकी बेटी उपासना शहर में नहीं थी वह नोएडा में थी। घटना के समय घर में आईएएस उनका बेटा आशुतोष दोस्त के साथ अपने कमरे में था। वहीं दो नौकर भी मौजूद थे। उपासना का कहना है कि जिन चचेरे मामा ने तहरीर दी है वह कभी मां से राखी बंधवाने तक नहीं आते थे।

फॉरेंसिक टीम की जांच का इंतजार

एसपी नार्थ सुकीर्ति माधव ने बताया कि घटना की जानकारी होने पर फॉरेंसिक टीम को बुलाया गया था। फॉरेंसिक टीम सबसे पहले पोस्टमार्टम हाउस पहुंची और बैलेस्टिक जांच की कार्रवाई की। टीम ने मृतका और उनके आईएएस पति के हाथ केमिकल लगाकर धुलवाए थे ताकि यह स्पष्ट हो सके कि फायर किसके हाथ से हुआ था। इसके बाद टीम अनीता सिंह के घर पहुंची और घटनास्थल की जांच की। टीम ने अनीता के शव और घटनास्थल से जांच के लिए कुछ नमूने भी लिए थे, जिसकी रिपोर्ट आने के बाद मौत की गुत्थी से पर्दा उठ सकेगा।

'सूडा के डायरेक्टर की पत्नी की संदिग्ध मौत के मामले में हत्या और साक्ष्य मिटाने का केस दर्ज किया गया। मृतका के चचेरे भाई की तहरीर पर केस दर्ज किया गया है। एफएसएल की रिपोर्ट मंगवाई गई है। रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।'

- सुकीर्ति माधव, एसपी नार्थ

'वह केस क्यों दर्ज करा रहे मुझे नहीं मालूम, लेकिन वह मां से राखी बंधवाने कभी नहीं आए। उनकी मौत के बाद हम लोगों से फोन कर यह भी नहीं पूछा कि बच्चों तुम लोग कैसे हो। आखिर वह क्या चाहते हैं, मुझे समझ में नहीं आ रहा है जब रिश्ता ही नहीं है तो केस किस वजह से दर्ज करा रहे हैं।'

- उपासना सिंह, आईएएस अफसर की बेटी

टीचर्स डे के दिन खुली गुरु की काली करतूत, कहा- एक घंटे के लिए चलो बेडरूम मेंफैक्ट फाइल

- पत्नी के चचेरे भाई की तहरीर पर पुलिस ने दर्ज किया केस

- हत्या और साक्ष्य छिपाने का लगाया आरोप

- पिता के बचाव में उतरी बेटी, पुलिस को एफएसएल रिपोर्ट का इंतजार

lucknow@inext.co.in

Posted By: Shweta Mishra

Crime News inextlive from Crime News Desk