नई दिल्ली (पीटीआई)। कोरोना माहामारी के चलते पूरी दुनिया में बंद क्रिकेट सीरीज को लेकर इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) ने शुक्रवार को एक मीटिंग आयोजित की। इसमें आईसीसी बोर्ड ने अपने प्रमुख टूर्नामेंटों के लिए विभिन्न आकस्मिक योजनाओं पर चर्चा की, जिसमें विश्व टी 20 और विश्व टेस्ट चैंपियनशिप शामिल थे। भारत की तरफ से बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली इस बैठक में शामिल थे। आईसीसी की एक विज्ञप्ति में कहा गया, "खेल पर महामारी के प्रभाव पर विश्व स्तर पर चर्चा हुई।" जबकि टूर्नामेंट के किसी भी बदलाव के रूप में कोई निर्णय नहीं लिया गया। आईसीसी के चीफ एक्जीक्यूटिव मनु साहने ने कहा, 'हम आईसीसी इवेंट को लेकर पूरी प्लॉनिंग के साथ आगे बढ़ रहे। यह तय शेड्यूल के मुताबिक ही होगी।'

टेस्ट चैंपियनशिप में अंकों को लेकर चर्चा

बोर्ड के एक सदस्य से पूछा गया कि अगर इंग्लैंड, जो पाकिस्तान और वेस्ट इंडीज की मेजबानी करने वाला है, अगर वो ऐसा करने में असमर्थ है, तो उन्होंने कहा कि अंक बंटवारे का मामला तकनीकी समिति को भेजा जाएगा। एक सदस्य के एक प्रतिनिधि ने नाम न छापने की शर्तों पर पीटीआई को बताया, 'यह तब तक नहीं हो सकता जब तक कि एक सौहार्दपूर्ण समाधान नहीं हो जाता। भारत छह श्रृंखलाएं खेल चुका है और टॉप पर है। इंग्लैंड को लॉकडाउन और टाइट एफटीपी शेड्यूल के कारण अगर सिर्फ तीन सीरीज खेलने को मिलती हैं तो अंकों के बंटवारे के लिए कुछ उचित समाधान चाहिए होगा।'

टी-20 वर्ल्डकप पर खतरा नहीं

बोर्ड के कुछ सदस्यों ने महसूस किया कि ऑस्ट्रेलिया में विश्व टी 20 खतरे में नहीं है क्योंकि अक्टूबर अभी भी कुछ समय दूर है।वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, "अगर चीजें जून से नियंत्रण में हैं, तो हम एक विशिष्ट आकस्मिक योजना पर काम कर सकते हैं। अभी, आईसीसी इन शेड्यूल सीरीज को लेकर पूरी तरह आश्वस्त है।'

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari

Cricket News inextlive from Cricket News Desk

inext-banner
inext-banner