दुबर्इ (पीटीआर्इ)। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी बीसीसीआर्इ को एक बड़ा झटका लगा है। क्रिकेट की इंटरनेशनल संस्था आर्इसीसी ने बीसीसीआर्इ के उस प्रस्ताव को ठुकरा दिया है जिसमें पाकिस्तान के साथ क्रिकेट रिश्ते खत्म करने की बात कही थी। बता दें पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारतीय क्रिकेट बोर्ड ने आतंकियों को पालने वाले देश पाकिस्तान के साथ किसी तरह के क्रिकेट रिश्ते न रखने को लेकर आर्इसीसी को एक लेटर भेजा था। वर्ल्ड कप 2019 में 16 जून को भारत बनाम पाकिस्तान का मैच होना है जिसको लेकर कर्इ पूर्व खिलाड़ियों ने विरोध किया था।

बोर्ड की कोशिश हुर्इ नाकाम

बीसीसीआर्इ के एक अधिकारी की मानें तो, 'पाकिस्तान के बाहर होने के वैसे कोर्इ चांस नहीं थे। मगर आर्इसीसी चेयरमैन ने रविवार को साफ कर दिया कि किसी देश के साथ खेलना है या नहीं, इसका फैसला वहां की सरकार के पास होता है। आर्इसीसी में इस तरह का कोर्इ नियम नहीं है। भारतीय क्रिकेट बोर्ड को पहले से इसके बारे में पता था मगर हमने एक कोशिश करके देखी।'

बीसीसीआर्इ ने लेटर में ये लिखा था

बताते चलें कि वर्ल्ड कप में भारत-पाक मैच को लेकर बीसीसीआर्इ ने पिछले हफ्ते आर्इसीसी को एक लेटर लिखा था। जिसमें पाकिस्तान के साथ संबंध न रखने की बात कही है। ये लेटर बीसीसीआर्इ के सीर्इआे राहुल जौहरी ने आर्इसीसी को भेजा था। इसमें लिखा गया था, 'कुछ दिनों पहले भारतीय जमीं पर एक आतंकी हमले में कर्इ भारतीय जवान शहीद हो गए थे। इस हमले के पीछे उन आतंकियों का हाथ है जिन्हें पाकिस्तान में पनाह मिलती है। एेसे में बीसीसीआर्इ को आगामी वर्ल्ड कप में शामिल हो रहे भारतीय क्रिकेटरों आैर स्टाॅफ की सुरक्षा की चिंता हो रही। ज्यादातर देशों ने इस आतंकवादी हमले की कड़ी निंदा की है इसमें यूके भी शामिल है जहां वर्ल्ड कप होने जा रहा। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड अपील करता है कि क्रिकेट कम्यूनिटी को उन देशों से सारे संबंध तोड़ देने चाहिए जहां आंतकवाद पनप रहा है। इसी के साथ बोर्ड वर्ल्ड कप 2019 में भारतीय क्रिकेट प्रशंसकों को पर्याप्त सुरक्षा मुहैया कराने की भी गुजारिश कर रहा।'

आज ही के दिन पाकिस्तान में श्रीलंकार्इ क्रिकेटरों पर बरसार्इ गर्इं थी गोलियां

एशियन गेम्स में हो सकती है क्रिकेट की वापसी, भारत जीत सकता है गोल्ड

Cricket News inextlive from Cricket News Desk