लखनऊ (ब्‍यूरो)। अगर हमें कोरोना के संक्रमण से बचना है तो हमें अपने इम्यून सिस्टम को मजबूत रखना होगा। इसके लिए हमें अपनी लाइफ स्टाइल में भी परिवर्तन करना होगा। बदलते मौसम में फ्लू की आशंका के बीच कोरोना का खतरा भी बढ़ रहा है। ऐसे में हमें किसी भी सूरत में अपने शरीर में पानी की कमी नहीं होने देनी है। जितना हो सके हम पानी के अलावा मट्ठा, दही, नारियल पानी जैसी तरल चीजें लेते रहें। यह कहना है एसजीपीजीआई की न्यूट्रीशन डॉ। अर्चना सिन्हा का।

जरूरी है सुबह का नाश्ता

डॉ। अर्चना ने बताया कि सुबह नाश्ता न करने का हमारे शरीर पर विपरीत असर पड़ता है। इससे सेहत तो खराब होती ही है साथ ही इम्यूनिटी सिस्टम पर भी असर पड़ता है। ऐसे में जरूरी है कि हम सुबह नाश्ता जरूर करें और ध्यान रखें कि इसमें प्रोटीन की मात्रा अधिक हो। हमें अपने नाश्ते में उबला अंडा, मौसमी फल, दलिया, अंकुरित अनाज को शामिल करना चाहिए। इससे शरीर तो स्वस्थ होता ही है साथ ही हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ती है।

हानिकारक है मोटापा

डॉ। अर्चना ने बताया कि मोटापा सेहत के लिए हानिकारक है। यह हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता कम करता है। ध्यान रखें कि अगर शरीर में सफेद कोशिकाएं कम होने लगें तो हमारी प्रतिरोधक क्षमता कम होने लगती है। उन्होंने बताया कि हमें शरीर को सक्रिय रखने की जरूरत है। इसके लिए इन दिनों हम व्यायाम और योगा को अपने रूटीन में शामिल कर सकते हैं।

जरूर लें आठ घंटे की नींद

डॉ। अर्चना का कहना है कि अगर आपकी नींद पूरी होगी तो आपकी सेहत भी अच्छी रहेगी, इसके लिए जरूरी है कि आठ घंटे की गहरी नींद हर हाल में ली जाए। वहीं खुद को तनावमुक्त रखकर भी हम अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ा सकते हैं।

इन बातों का रखें ध्यान

- अपने शरीर की स्वच्छता के साथ-साथ आसपास भी सफाई रखें।

- रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए रोज तुलसी और करी पत्ता की आठ-दस पत्तियां खाएं। इसमें मौजूद एंटी ऑक्सिडेंट रोगों से लड़ने में सहायक हैं।

- हमें रोज कुछ देर धूप में जरूर बैठना चाहिए, इससे शरीर के लिए जरूरी विटामिन डी मिलता है।

इन चीजों को शामिल करें डायट में

टमाटर- टमाटर में लाइकोपीन एंटी ऑक्सिडेंट होता है जो दिमाग की सेहत के लिए जरूरी है। इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए टमाटर में विटामिन के, विटामिन सी और फाइबर भी प्रचुर मात्रा में होता है।

संतरा- संक्रमण से लड़ने वाली श्वेत रक्त कणिकाओं के निर्माण में विटामिन सी की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। ऐसे में संतरा, नीबू, आंवला जैसे खट्टे फल रोजाना खाने चाहिए।

लहसुन- लहसुन में एलिसिन नामक तत्व पाया जाता है, जो शरीर को किसी भी प्रकार के संक्रमण और बैक्टीरिया से लड़ने की शक्ति देता है। यह पेट के अल्सर और कैंसर से भी बचाव होता है। हमें इसे अपने आहार में शामिल करना चाहिए।

पालक- पालक में फॉलेट नामक तत्व पाया जाता है, जो शरीर में नई कोशिकाएं बनाने के साथ उन्हें मजबूत करता है। इसमें मौजूद फाइबर आयरन एंटी ऑक्सिडेंट को बढ़ाकर शरीर को स्वस्थ रखता है। पालक में विटामिन सी भी पाया जाता है।

मशरूम- श्वेत रक्त कोशिकाओं को सक्रिय करने में मशरूम फायदेमंद है। इसमें सेलेनियम नामक मिनरल, एंटी ऑक्सिडेंट तत्व, विटामिन बी, नाइसिन आदि पाये जाते हैं। मशरूम में शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करने वाले तत्व की प्रचुरता होती है।

बदाम- रोज 6-10 बदाम भिगोकर खाने से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। इसमें मौजूद विटामिन ई शरीर में प्राकृतिक तौर पर पाए जाने वाले सेल्स को बढ़ाने में मददगार है।

अंकुरित अनाज- शरीर को बीमारियों से लड़ने लायक बनाने के लिए अंकुरित अनाज बेहद फायदेमंद हैं। हर दो-दो घंटे में इसे कुछ मात्रा में लेते रहना चाहिए। इसके अलावा हमें सब्जियों को अपने डेली के आहार में शामिल करना चाहिए।

Posted By: Inextlive