दिन में 11 बजे तक दिखा सन्नाटा

दोपहर में अपनी रौ में आ गया प्रयागराज

prayagraj@inext.co.in

PRAYAGRAJ: अयोध्या में राम मंदिर और बाबरी मस्जिद को लेकर शनिवार को आने वाले फैसले का इंतजार हर किसी को था. इसलिए बिजनेसमैन हो या फिर सर्विस मैन, हर कोई फैसला आने के पहले टीवी पर नजरें जमाए हुए था. जिसकी वजह से दिन में 11 से दोपहर करीब बारह बजे तक सड़कों पर सन्नाटा पसरा हुआ था. मॉल्स खाली पड़े हुए थे, सिविल लाइंस के साथ ही पुराने शहर व अन्य इलाकों में स्थित दुकानों के शटर नहीं खुले थे, लेकिन 11 बजे के करीब जैसे ही फैसला आया और एक सद्भाव का माहौल फिजा में छाया, पूरा शहर एक बार फिर चल पड़ा. जो लोग अपने घरों में कैद थे, टीवी से चिपके थे वो बाहर निकले. मार्केट की जो दुकानें बंद थी, दोपहर बारह बजे के बाद वे भी खुल गई.

मॉल्स भी खुले और शॉप भी

हॉलीडे के दिन भी क्राउडेड नजर आने वाला सिविल लाइंस दोपहर बारह बजे के पहले शांत था. लेकिन फैसले के बाद चहल-पहल बढ़ गई. एमजी रोड, सरदार पटेल रोड, नवाब युसुफ रोड पर कस्टमर नजर आने लगे. जानसेनगंज, चौक, शाहगंज, रोशनबाग, कोतवाली, ठठेरी बाजार, खुल्दाबाद में दोपहर में जहां कुछ दुकानें खुली थीं, वहीं शाम तक सभी दुकानें खुल गई और लोग शॉपिंग करते हुए नजर आए.

Posted By: Inextlive