इस्लामाबाद (एएनआई)। आर्थिक संकट से जूझ रहे पाकिस्तान को फिर से पटरी पर लाने के लिए पीएम इमरान खान हर तरह की कवायद कर रहे हैं। बता दें कि इस महीने के आखिर में इमरान खान की अमेरिकी यात्रा के दौरान ज्यादा खर्च ना हो, इसके लिए उन्होंने होटल की बजाय पाक राजदूत के घर पर रुकने की इच्छा जाहिर की है। पाकिस्तानी अखबार 'डॉन' के मुताबिक, अमेरिका में सभी गणमान्य व्यक्तियों की सुरक्षा के लिए जिम्मेदार संस्था 'यूएस सीक्रेट सर्विस' ने इमरान के विचारों को फिलहाल अनदेखा कर दिया है। इसके अलावा अमेरिका में ट्रैफिक व्यवस्था के लिए जिम्मेदार स्थानीय अधिकारियों ने भी अभी तक पीएम इमरान की इस इच्छा पर अपनी कोई भी टिप्पणी नहीं की है।

पाकिस्तान : पीएम इमरान के लिए सांप की खाल से बनाई गई थी सैंडल, अधिकारियों ने किया जब्त

कई सड़कों को किया जा सकता है बंद
बता दें कि अमेरिका का दौरा करने वाले नेता आमतौर पर व्हाइट हाउस से नजदीक के होटलों में रुकते हैं, जिनमें जॉर्ज टाउन, रिट्ज कार्लटन और विलार्ड इंटर-कॉन्टिनेंटल होटल शामिल हैं। दूसरी ओर, पाकिस्तान के राजदूत का घर वाशिंगटन के राजनयिक एन्क्लेव में स्थित है। अगर खान राजदूत के घर पर रुकते हैं और वहां से वह अन्य नेताओं और अधिकारियों के साथ मीटिंग के लिए निकलते हैं तो सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए सड़क को बंद करना पड़ सकता है। इससे शहर के सैकड़ों इलाकों में ट्रैफिक प्रभावित हो सकते हैं। होटल में आमतौर पर वीवीआईपी के लिए सभी व्यवस्थाएं होती हैं, जिसमें बड़े कार्यक्रमों को आयोजित करने के लिए हॉल और अन्य गणमान्य लोगों के साथ मीटिंग के लिए जगह भी शामिल होता है। होटलों में नेताओं की सुरक्षा का पूरा ख्याल भी रखा जाता है।

International News inextlive from World News Desk