क्त्रन्हृष्ट॥ढ्ढ : शहर में चोरी की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही है. इस बार चोरों ने बरियातू के राज अपार्टमेंट में रहने वाले व रिम्स के सर्जन डॉ चितरंजन प्रसाद के फ्लैट को निशाना बनाया. चोरों ने सोमवार की देर रात बंद फ्लैट से 15 हजार कैश, सोने के जेवरात और कई इलेक्ट्रॉनिक सामानों पर हाथ साफ कर दिया. इस बाबत उन्होंने बरियातू थाने में चोरी की रिपोर्ट दर्ज करा दी है. इधर, चोरी की जानकारी मिलने पर इंस्पेक्टर डीके श्रीवास्तव और एफएसएल की टीम ने घटनास्थल पर आकर पूरे मामले की जानकारी ली. उन्होंने कहा कि चोरों की तलाश की जा रही है. जल्द ही वे पुलिस की गिरफ्त में आ जाएंगे.

गए थे शादी समारोह में

डॉ चितरंजन प्रसाद ने बरियातू पुलिस को जो बताया उसके मुताबिक, वे फ्लैट में ताला लगाकर पूरे परिवार के साथ एक शादी समारोह में शिरकत करने गए थे. मंगलवार की सुबह लौटे तो फ्लैट का ताला टूटा हुआ था. कमरे में जब गया तो सामान जहां-तहां बिखरे पड़े थे. जब आलमीरा खोला तो कैश समेत सोने के गहने व कई इलेक्ट्रानिक सामान गायब थे.

गार्ड हिरासत में, पूछताछ

डॉ चितरंजन प्रसाद के फ्लैट में हुई चोरी के मद्देनजर बरियातू पुलिस ने अपार्टमेंट के सिक्योरिटी गार्ड को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है. पुलिस को चोरी की इस घटना में गार्ड के संलिप्त होने की आशंका है. इधर, फोरेंसिक की टीम ने भी फ्लैट में आकर सैंपल कलेक्ट कर लिए हैं. इस बाबत छानबीन जारी है.

चोरी की हालिया घटनाएं

12 मई 2017

लालपुर थाना क्षेत्र में एचबी रोड स्थित होटल आर्या के सामने सिमरन प्लाईवुड दुकान में सेंधमारी की हुई थी घटना. दुकान के प्रॉपराइटर ने चोरी की दर्ज कराई रिपोर्ट, पर चोरों का नहीं चल सका पता.

03 मई 2017

चुटिया के निवारणपुर में ठेकेदार संजय द्विवेदी के घर का ताला तोड़कर चोरों ने 1.25 लाख कैश समेत अन्य सामानों की चोरी कर ली थी. चोरों ने घटना को उस वक्त अंजाम दिया था, जब वे पत्नी के साथ मार्केटिंग के लिए गए थे.

23 अप्रैल 2017

हटिया में दुकान का सीट काटकर हजारों रुपये मूल्य की संपत्ति की चोरी की घटना को अंजाम दिया गया. इस मामले में हटिया के चांदनी चौक राजपूत मोहल्ला निवासी संजय कुमार ने जगन्नाथपुर थाने में अज्ञात चोरों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई थी.

7 अप्रैल 2017

बरियातू थाना क्षेत्र के शकुंतला अपार्टमेंट में मनोज सोलंकी के फ्लैट से ताला तोड़कर चोरों ने लाखों रुपए के गहने कर दिए थे साफ. इस बाबत उन्होंने चोरी की एफआईआर तो दर्ज करा दी, पर चोरों का नहीं चल सका कोई पता.

चोरी करने के अनोखे तरीके

चोरी करने के लिए चोर अजब-गजब के तरीके अपना रहे हैं. जो घर व दुकान उनके निशाने पर होते हैं. वहां पहुंचने के बाद कोई खाना खाना है तो कोई बाथरुम में स्नान करता है. इसके बाद आराम से सामानों को अपने साथ लेकर चलते बनते हैं. इतना ही नहीं, ये चोरी की घटना को अंजाम देने के लिए बोलेरो अथवा सुमो गाड़ी का इस्तेमाल करते हैं. गिरोह के मेंबर्स एक इलाके में ज्यादा दिनों तक नहीं ठहरते हैं. वे इलाका बदल-बदलकर चोरी की घटनाओं को अंजाम देते हैं.