कोलकाता (पीटीआई)। बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली कोविड ​​-19 महामारी के कारण 21 दिन के बंद से प्रभावित लोगों के समर्थन में आगे आए हैं। उन्होंने दलितों के लिए 50 लाख रुपये के चावल दान करने का वादा किया है। लाल बाबा राइस के साथ गांगुली उन जरूरतमंद लोगों के लिए प्रदान करेंगे जिन्हें सुरक्षा के लिए सरकारी स्कूलों में रखा गया है। इस बात की जानकारी क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ बंगाल ने एक बयान में की। वहीं कंपनी की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है कि उम्मीद है कि गांगुली की यह पहल राज्य के अन्य नागरिकों को हमारे राज्य के लोगों की सेवा के लिए प्रोत्साहित करेगी।

भारत में तेजी से फैल रहा वायरस

135 करोड़ आबादी वाला भारत कोविड-19 वायरस के प्रसार को धीमा करने के प्रयास में आधी रात से 21 दिनों के लिए लॉकडाउन में चला गया है। कैब सचिव स्नेहाशीस गांगुली ने इसे अभूतपूर्व कदम उठाया। बता दें भारत में कोरोना के 600 मामले सामने आए हैं और 10 लोगों की मौत हुई है। भारत दुनिया का दूसरा सबसे अधिक आबादी वाला देश है, ऐसे में यहां कोरोना का खतरा बढऩा तय है।

कोहली और गांगुली ने लॉकडाउन का किया समर्थन

भारतीय कप्तान विराट कोहली और बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा कोरोना वायरस महामारी से निपटने के लिए देश में 21 दिन के लॉकडाउन की घोषणा के फैसले का समर्थन किया। विराट कोहली ने ट्वीट किया, 'हमारे माननीय प्रधान मंत्री, श्री नरेंद्र मोदी जी ने अभी घोषणा की, अगले 21 दिनों के लिए पूरा देश आज आधी रात को लॉकडाउन में जा रहा है। मेरा अनुरोध यही रहेगा, कृपया घर पर मौजूद रहें। सोशल डिस्टेंसिंग ही कोविड 19 का एकमात्र इलाज है।' विराट के अलावा बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने भी सभी से घर पर रहने का आग्रह किया और कहा कि दुनिया भर के नागरिकों को उनकी सरकार की बातों को सुनना चाहिए। दादा ने एक वीडियो ट्वीट में कहा, 'चलो एक साथ लड़ते हैं। हम इस पर काबू पा लेंगे। समझदार बनें और सरकार के निर्देशों का पालन करें।'

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari

Cricket News inextlive from Cricket News Desk