हरदोई (आईएएनएस)। कोरोना के चलते देश में जहां लॉकडाउन के चलते किसी को बाहर निकलने की इजाजत नहीं है। ऐसे में उत्तर प्रदेश में एक जोड़े ने डिजिटल शादी की। यह मामला हरदोई का है जहां बुधवार को दूल्हा-दुल्हन ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए शादी की। दुल्हन जिसका नाम मेहजबीन है वह शादी के जोड़े में घर पर बैठे हुई थी। वहीं दूल्हा हामिद अपने परिवार के लोगों संग शेरवानी पहने अपने घर पर बैठा हुआ था। इन दोनों के घर के बीच करीब 15 किमी की दूरी थी।

लॉकडाउन के चलते नहीं निकाल सकते थे बारात

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से, मौलाना ताहिर ने 'निकाह' की रस्में पूरी करवाई। इसके बाद संबंधित परिवारों ने अपने घरों में छोटा समारोह आयोजित किया। दूल्हा हामिद का कहना है, "देश में लॉकडाउन की स्थिति है ऐसे में कोई रास्ता नहीं था। इस वक्त हम 'बारात' भी नहीं निकाल सकते थे। हमने इस मुद्दे पर चर्चा की और फैसला किया कि शादी को स्थगित नहीं किया जाएगा और हर कीमत पर ये समारोह आयोजित होगा। एक बार जब लॉकडाउन खत्म होगा, तब मैं अपनी दुल्हन को घर लाऊंगा और शायद फिर बड़ा उत्सव हो सके।'

वायरस पीडि़तों की संख्या बढ़ रही

देश में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या बढ़ती ही जा रही है। देश भर में 13 मौतों के साथ कोरोना वायरस के मामलों की संख्या 606 हो गई है। जम्मू-कश्मीर में कोरोना से पहली मौत हुई है। यहां एक 65 साल के बुजुर्ग ने दम तोड़ा है। स्वास्थ्य मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने एक प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए कह कि इस बीमारी को फैलने से रोकने के लिए सरकार हर संभव प्रयास कर रही है। इंडियन आर्मी के हॉस्पिटल भी कोरोना के मरीजों का उपचार करने के लिए तैयार हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन की अध्यक्षता में नई दिल्‍ली स्थित निर्माण भवन में कोविड-19 पर मंत्रियों की एक उच्चस्तरीय बैठक आयोजित की गई। इस दौरान उन्होंने कहा कि हम एक संक्रामक बीमारी से लड़ रहे हैं। खुद को और दूसरों को बचाने के लिए, यह बेहद जरूरी है कि हम सरकार द्वारा जारी किए गए सभी प्रोटोकॉल, दिशानिर्देशों और निर्देशों का पालन करें।

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari

National News inextlive from India News Desk