नई दिल्ली (पीटीआई)। भारतीय स्पिन गेंदबाज हरभजन सिंह इन दिनों घर पर समय बिता रहे। देश में 21 दिनों के लॉकडाउन के चलते फिरकी गेंदबाज हरभजन के पास कोई दूसरा विकल्प नहीं है। ऐसे में घर बैठे वह क्रिकेट को भूल दिनभर कोरोना के बारे में सर्च करते रहते हैं। अन्य सभी लोगों की तरह, अनुभवी स्पिनर मुंबई में अपने परिवार (पत्नी गीता और बेटी हिनाया) के साथ है। उन्हें उम्मीद है कि वैज्ञानिक और डॉक्टर इस महामारी से निपटने के लिए कोई दवा खोज लेंगे।

कोरोना के बारे में जुटा रहा जानकारी

हरभजन ने बुधवार को पीटीआई से बातचीत में कहा, 'आप संकट के इन समय में जीवन को पूरी तरह से अलग नजरिए से देखते हैं। खेल इस समय आपके दिमाग से सबसे दूर है। अब जब मैं घर पर हूं, मैं अपना ज्यादातर समय कोविड-19 के बारे में कुछ भी और सब कुछ पढऩे में बिता रहा हूं।' भज्जी से पूछा गया कि वास्तव में वह क्या पढ़ते हैं, इस पर उन्होंने कहा - 'मैं उपलब्ध जानकारी के हर प्रामाणिक टुकड़े को पढऩे की कोशिश करता हूं। वर्तमान स्थिति के बारे में सरकार द्वारा प्रदान किए गए सभी अपडेट। और हां, सबसे महत्वपूर्ण बात, मैं यह जानने की कोशिश करता हूं कि वैज्ञानिक, जीवविज्ञानी और डॉक्टर इसके इलाज के बारे में क्या कर रहे हैं।'

परिवार के साथ समय बिताकर खुश

39 वर्षीय ने कहा, "आपको खुद को प्रेरित करना चाहिए। कोई भी सकारात्मक जानकारी आपको प्रभावित करती है।" बता दें हरभजन सीएसके प्री-सीजन कैंप में चेन्नई में थे जब आईपीएल स्थगित हो गया। जबकि यह उनके व्यस्त कार्यक्रम से एक मजबूर ब्रेक है, जिसमें कमेंट्री भी शामिल है, उन्हें अपनी पत्नी और बेटी के साथ कुछ कीमती समय बिताने के लिए मिल रहा है। उन्होंने आगे कहा, 'मैं और मेरी पत्नी सुबह एक साथ योग करते हैं। हम अब शाम को स्क्रैबल और डार्ट्स खेलने के लिए समय निकाल रहे हैं। कई बार, हम एक साथ एक फिल्म देखते हैं।' यही नहीं भज्जी बेटी के साथ समय बिताकर काफी खुश हैं। उनका कहना है, 'ब्रेक ने मुझे हिनाया के साथ क्वालिटी टाइम बिताने का मौका दिया है। जब मैं उसके साथ खेलने जा रहा हूं तो यह वास्तव में खुशी की बात है। यह मेरी भावना को बढ़ाता है। अभी मैं चाहता हूं कि हर कोई सुरक्षित रहे।"

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari

Cricket News inextlive from Cricket News Desk