नई दिल्ली (एएनआई)। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने मंगलवार को यहां प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इस दाैरान उन्होंने कहा कि भारत में मृत्यु दर 2.82 प्रतिशत है और यह दुनिया में सबसे कम है। देश में अब तक कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से जिन लोगों की मौतें हुई हैं, उनमें से 73 प्रतिशत लोग ऐसे थे जिन्हें पहले से ही कई अन्य गंभीर बीमारियां थीं। कोरोना वायरस मामलों की कुल संख्या को देखना गलत तुलना है। उल्लेख है कि कोरोना मामलों की संख्या के मामले में भारत सातवें स्थान पर है। हमारी आबादी पर भी विचार किया जाना चाहिए। भारत के समान जनसंख्या वाले 14 देशों ने 22.5 गुना अधिक मामलों और 55.2 गुना मौतों की सूचना दी है। लव अग्रवाल ने कहा कि रिकवरी दर में भी लगातार सुधार हो रहा है।

कोरोना की वजह से मृत्यु दर 2.82 प्रतिशत विश्व में सबसे कम

देश में अब तक कुल 95,527 मरीज कोराेना वायरस से ठीक हो गए हैं। वहीं पिछले 24 घंटों में 3,708 ठीक हुए हैं।रिकवरी रेट अब 48.07 प्रतिशत से अधिक है। 18 मई को रिकवरी की दर 38.29 फीसदी थी। 3 मई को यह 26.59 फीसदी था। 15 अप्रैल को यह 11.42 फीसदी थी। उन्होंने आगे कहा हमारे यहां कोरोना वायरस की वजह से मृत्यु दर 2.82 प्रतिशत विश्व में सबसे कम है, जबकि वैश्विक मृत्यु दर 6.13 प्रतिशत है।

24 घंटों में 8,171 अधिक कोरोना वायरस मामलों की रिपोर्ट

भारत ने मंगलवार को पिछले 24 घंटों में 8,171 अधिक कोरोना वायरस मामलों की और 204 मौतों की सूचना दी। केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार कुल मामलों की संख्या अब 1,98,706 है। इनमें 97,581 सक्रिय मामले है। 95,527 ठीक हो गए हैं। इसमें 5,598 मौतें शामिल हैं। फाइल फाेटो

Posted By: Shweta Mishra

National News inextlive from India News Desk