नई दिल्ली (एएनआई): भारत रविवार की रात को COVID-19 के खतरे को हराने के लिए दीयों की रोशनी में एकजुट दिखा देश। कोरोनावायरस जिसने अब तक भारत में 83 लोगों की जान ले ली को हराने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर देश भर के लोग रात 9 बजे 9 मिनट के लिए टार्च, मोमबत्तियां और दीए जलाते देखे गए । पीएम मोदी की अपील को फॉलो करते हुए, लोगों ने अपने घरों में बल्ब बंद कर दिए, इनमें प्रधानमंत्री खुद भी थे शामिल थे।

पीएम ने भी जलाए दिए

ऐसा नही था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केवल देशवासियों से ही बत्तियां बंद करने और दिए जलाने के लिए कहा था, वे खुद भी अपने आवास पर 9 बजे ऐसा ही कर रहे थे। दिया रोशन करते हुए अपनी तस्वीरें उन्होंने ट्वीटर पर भी शेयर कीं हैं। इसके साथ ही कैप्शन में उन्होंने संस्कृत का ये श्लोक भी लिखा है, शुभं करोति कल्याणमारोग्यं धनसंपदा । शत्रुबुद्धिविनाशाय दीपज्योतिर्नमोऽस्तुते ॥ जिसमें उन्होने आरोग्य, समृद्धि और शत्रु के विनाश के लिए प्रकाश की आराधना कर सब कुछ शुभ और कल्याण कारी होने की आराधना की है।

घरों की बत्तियां बुझा कर जलाए दिए,ऐसे कोरोना के खिलाफ एकजुट हुआ देश,पीएम ने भी दिया साथ

पीएम ने की थी अपील

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज रविवार को देशवासियों को 9 बजे 9 मिनट के लिए लाइट बंद करने की याद भी दिलाई थी। ट्विटर पर अपना संदेश पोस्ट करके पीएम मोदी ने कहा था कि, "रात 9 बजे (-) 9 मिनट। प्रधानमंत्री के ट्वीट करने के कुछ ही मिनटों बाद, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भी एक ट्वीट किया था और दोहराया, आज रात नौ बजे नौ मिनट। प्रधानमंत्री मोदी ने शुक्रवार 3 अप्रैल को देश के नाम संदेश देते हुए सभी नागरिकों से रविवार की रात 9 बजे 9 मिनट के लिए दीपक या मोमबत्ती जलाने को कहा था। पीएम मोदी ने कहा कि 5 अप्रैल (रविवार) को, रात 9 बजे, अपने घरों में सभी बत्तियां बंद कर दें, अपने दरवाज़ों पर या अपनी बालकनी में खड़े हो जायें, और 9 मिनट के लिए मोमबत्ती या दीये, टॉर्च या मोबाइल की टॉर्च जलायें।

घरों की बत्तियां बुझा कर जलाए दिए,ऐसे कोरोना के खिलाफ एकजुट हुआ देश,पीएम ने भी दिया साथ

अंधेरे को हराने की चुनौती

मोदी जी ने इसके आगे अपनी बात को COVID-19 से जोड़ते हुए कहा कि ऐसा करके हमें कोरोनावायरस के कारण होने वाले अंधेरे को चुनौती देना है। उन्होंने कहा कि यह 130 करोड़ भारतीयों के भीतर छुपी की महाशक्ति को जगाने के लिए भी है। इस एलान के बाद लोगों ने दिए और मोमबत्तियां खरीदनी शुरू कर दिए थे। जिसके चलते अचानक इन चीजों की मांग में तेजी से बढ़ोत्तरी देखी गई। इस बीच कोरोनावायरस के कारण देश में 14 अप्रैल तक लॉकडाउन जारी है। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार देश में अब तक 83 मौतों के साथ कोरोनोवायरस के करीब 3,400 मामले सामने आ चुके हैं।

Posted By: Molly Seth

National News inextlive from India News Desk

inext-banner
inext-banner