कानपुर। भारत बनाम साउथ अफ्रीका के बीच तीन मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मुकाबला विशाखापत्तनम में खेला गया। इस टेस्ट में रोहित शर्मा को पहली बार ओपनिंग करने भेजा गया और हिटमैन ने पहले ही मैच में इतिहास रच दिया। दाएं हाथ के ओपनर रोहित ने पहली पारी में जहां 176 रन बनाए थे वहीं सेकेंड इनिंग में 127 रन की पारी खेली। इसी के साथ भारत की लंबे समय से चली आ रही एक अच्छे टेस्ट ओपनर की तलाश भी पूरी हुई। रोहित वैसे तो वनडे और टी-20 में भारत के लिए ओपनिंग करते हैं और काफी सफल भी हुए। मगर कोहली ने उन्हें टेस्ट में फर्स्ट टाइम ओपनर बनाया। रोहित ने इस मौके का भरपूर फायदा उठाया।

कौन हैं भारत के पांच बेस्ट टेस्ट ओपनर्स

सीमित ओवरों के खेल में रोहित एक विस्फोटक ओपनर बल्लेबाज बन चुके हैं। इसमें कोई दोराय नहीं मगर टेस्ट में उन्हें यह उपलब्धि हासिल करने के लिए आगे भी ऐसी ही पारियां खेलनी होंगी। रोहित अगर लंबे समय तक टेस्ट में अपनी फाॅर्म बरकरार रखते हैं तो वह भारत के सबसे सफल पांच ओपनर्स में अपना नाम जरूर ले आएंगे। आइए जानें अभी किन भारतीय ओपर्नस का नाम है टाॅप 5 में...

india's top 5 test match openers of all time: इतिहास बनाने के लिए रोहित शर्मा को इन्‍हें छोड़ना होगा पीछे

सुनील गावस्कर

भारतीय क्रिकेट इतिहास के सबसे सफल टेस्ट ओपनर की बात करें तो पहला नाम सुनील गावस्कर का आता है। लिटिल मास्टर के नाम से मशहूर सुनील गावस्कर ने भारत के लिए 125 मैच खेले जिसमें से 119 मैचों में वह बतौर ओपनर मैदान में उतरे। गावस्कर ने ओपनिंग करते हुए टेस्ट में 50.29 की औसत से 9607 रन बनाए। इसमें 33 शतक और 42 अर्धशतक शामिल हैं। 1987 में क्रिकेट को अलविदा कह चुके सुनील गावस्कर की ओपनिंग का यह रिकाॅर्ड आज तक कोई भारतीय बल्लेबाज नहीं तोड़ पाया। हालांकि वीरेंद्र सहवाग ने काफी कोशिश की मगर वह उनसे करीब 1500 रन पीछे रह गए।

india's top 5 test match openers of all time: इतिहास बनाने के लिए रोहित शर्मा को इन्‍हें छोड़ना होगा पीछे

वीरेंद्र सहवाग

सुनील गावस्कर के बाद जिस भारतीय टेस्ट ओपनर का नाम आता है, वो वीरेंद्र सहवाग हैं। अपनी विस्फोटक बल्लेबाजी के लिए मशहूर वीरू ने टेस्ट क्रिकेट में कई बड़े मुकाम हासिल किए। टेस्ट में बतौर ओपनर दो तिहरा शतक जड़ने वाले सहवाग इकलौते भारतीय खिलाड़ी हैं। वीरेंद्र सहवाग ने भी अपने करियर का आगाज मिडिल ऑर्डर बैट्समैन के रूप में किया था। सहवाग ने शुरुआती पांच टेस्ट बतौर मध्यक्रम बल्लेबाज के रूप में खेले थे जिसमें उन्होंने 10 पारियों में सिर्फ 379 रन बनाए। इस दौरान वीरू का एवरेज 37.9 था। साल 2002 में तत्कालीन भारतीय कप्तान सौरव गांगुली ने सहवाग से इंग्लैंड के खिलाफ ओपनिंग करने को कहा। ये मैच लाॅर्ड्स में खेला गया था। अपने इस ओपनिंग डेब्यू में सहवाग ने 84 रन की पारी खेल सबको प्रभावित कर दिया। इसके बाद हर कोई सहवाग की विस्फोटक बल्लेबाजी का कायल हो गया। वीरू ने बतौर ओपनर 170 पारियां खेली जिसमें 50 की ज्यादा औसत से 8207 रन बनाए। इसमें दो तिहरे शतक भी शामिल हैं।

india's top 5 test match openers of all time: इतिहास बनाने के लिए रोहित शर्मा को इन्‍हें छोड़ना होगा पीछे

गौतम गंभीर

इस लिस्ट में तीसरा नाम गौतम गंभीर का आता है। गंभीर टीम इंडिया के उन बल्लेबाजों में शामिल हैं जिन्हें ओवररेटेड रखा गया। सहवाग के साथ गौती की ओपनिंग जोड़ी एक समय काफी मशहूर थी। गंभीर ने भारत के लिए 57 टेस्ट मैचों में ओपनिंग की है जिसमें उन्होंने 42.9 की औसत से 4119 रन बनाए। इस दौरान गंभीर के बल्ले से 9 शतक और 22 अर्धशतक भी निकले। बतौर ओपनर टेस्ट में गंभीर का हाईएस्ट इंडिविजुअल स्कोर 206 रन है। गंभीर ने 2004 से लेकर  2016 तक टीम इंडिया के लिए ओपनिंग की, हालांकि बीच में वह टीम से अंदर-बाहर भी होते रहे मगर बाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने अपनी शानदार बैटिंग से करोड़ों फैंस का दिल जीता।

india's top 5 test match openers of all time: इतिहास बनाने के लिए रोहित शर्मा को इन्‍हें छोड़ना होगा पीछे

मुरली विजय

भारत के चौथे सबसे सफल ओपनर मुरली विजय हैं। दाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने भारत के लिए करीब 10 साल तक टेस्ट में ओपनिंग की है। इस दौरान मुरली विजय ने कुल 57 मैच खेले जिसमें 39.19 की औसत से 3880 रन बनाए। टेस्ट में बतौर ओपनर 3000 से ज्यादा रन बनाने वाले वह भारत के आखिरी ओपनर बल्लेबाज हैं। बतौर सलामी बल्लेबाज विजय ने टेस्ट में 12 सेंचुरी और 15 हाॅफसेंचुरी लगाई। हालांकि ओपनर रहते हुए विजय टेस्ट में कभी दोहरा शतक नहीं जड़ पाए। उनका हाईएस्ट इंडिविजुअल स्कोर 167 रन है।

india's top 5 test match openers of all time: इतिहास बनाने के लिए रोहित शर्मा को इन्‍हें छोड़ना होगा पीछे

नवजोत सिंह सिद्घू

पूर्व भारतीय क्रिेकटर नवजोत सिंह सिद्घू का भी ओपनिंग रिकाॅर्ड काफी बेहतर है। वह सलामी बल्लेबाज के रूप में भारत के लिए सबसे ज्यादा टेस्ट रन बनाने वाले पांचवें बल्लेबाज हैं। सिद्घू ने साल 1983 में पहली बार टीम इंडिया के लिए टेस्ट ओपनिंग की। इसके बाद वह लगातार अच्छा प्रदर्शन करते गए। हालांकि कभी-कभी वो टीम से ड्राॅप भी हुए मगर अपने टेस्ट करियर में बतौर ओपनर उन्होंने 45 मैच खेले जिसमें 42.8 की एवरेज से 2911 रन बनाए। इसमें आठ शतक और 15 अर्धशतक भी शामिल हैं।

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari

Cricket News inextlive from Cricket News Desk