मुंबर्इ (पीटीआर्इ)। वर्ल्ड कप के लिए टीम इंडिया में ज्यादातर खिलाड़ियों की जगह पक्की हो गर्इ है। जो बाकी हैंं उनमें एक स्पाॅट गेंदबाज का है। आॅस्ट्रेलिया के खिलाफ होने वाली आगामी सीरीज में भारतीय चयनकर्ता एक युवा गेंदबाज को मौका देना चाहेंगे। एेसे में लेफ्ट आॅर्म पेसर्स खलील अहमद आैर जयदेव उनादकट के बीच लंबी रेस लगेगी। खलील ने काफी प्रभावित किया है वहीं उनादकट इस बार आर्इपीएल नीलामी में सबसे मंहगे बिके। मगर इन दोनों में भारतीय जर्सी कौन पहनेगा, इसका फैसला शुक्रवार को हो जाएगा।

टीम इंडिया को लेकर माथापच्ची

फरवरी के आखिरी में कंगारु टीम भारत दौरे पर रहेगा। आॅस्ट्रेलिया को यहां दो टी-20 आैर पांच वनडे मैचों की सीरीज खेलनी है। वर्ल्ड कप से पहले भारत का यह आखिरी इंटरनेशनल मुकाबला होगा। इंग्लैंड में होने वाला 2019 विश्व कप 30 मर्इ से शुरु हो जाएगा। एेसे में भारतीय टीम मैनेजमेंट वर्ल्ड कप के लिए अपनी बेस्ट टीम तैयार करना चाहेंगे। गेंदबाजों के अलावा निचले क्रम में बैटिंग में रिषभ पंत आैर दिनेश्स कार्तिक के बीच जंग छिड़ी है। इसके अलावा केएल राहुल को बतौर तीसरा आेपनर टीम में शामिल किया जा सकता है। राहुल ने हाल ही में इंग्लैंड लायंस के खिलाफ अनअफिशल टेस्ट में काफी अच्छी पारियां खेली हैं।

आॅस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे खेल सकता है वो खिलाड़ी,जो आर्इपीएल में बिका था सबसे मंहगा

इन 13 खिलाड़ियों की जगह पक्की

वनडे सीरीज से पहले भारत दो टी-20 खेेलेगा। उम्मीद है कि इसमें उप कप्तान रोहित शर्मा को आराम दिया जाएगा ताकि वह वनडे सीरीज में खेलने के लिए एकदम तरोताजा महसूस करें। वैसे चयनकर्ताआें ने वर्ल्ड कप टीम के लिए लगभग 13 खिलाड़ियों को चुन लिया है। इसमें विराट कोहली, शिखर धवन, रोहित शर्मा, अंबाती रायडू, महेंद्र सिंह धोनी, केदार जाधव, हार्दिक पांड्या, विजय शंकर, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह आैर मोहम्मद शमी।

कैसे कम होगा बोझ

बीसीसीआर्इ के एक अधिकारी के मुताबिक, 'टी-20 सीरीज में विराट के वापस आने के बाद रोहित शर्मा को रेस्ट दिया जा सकता है। मगर जब वनडे सीरीज खेली जाएगी तो इसके लिए टीम सिलेक्शन में कोर्इ एक्सपेरिमेंट नहीं किया जाएगा।' खिलाड़ियों पर काम के अतिरिक्त बोझ को लेकर बीसीसीआर्इ अधिकारी ने कहा, 'आॅस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज से पहले सभी वनडे खिलाड़ियों को कम से कम ढार्इ हफ्ते का रेस्ट मिल जाएगा। वहीं तेज गेंदबाजों की बात करें तो सभी पांच मैचों में बदल-बदल कर प्लेइंग इलेवन चुनी जाएगी, हालांकि कोर्इ भी बाॅलर स्क्वाॅयड से बाहर नहीं होगा।' अधिकारी का यह भी कहना है कि खिलाड़ियों को थकान तब हो सकती है जब वह आर्इपीएल खेलेंगे।

मैदान पर पर्सनल बात करने पर इस खिलाड़ी को ICC ने चार मैच के लिए बाहर निकाल दिया

रेडियो पर सुना हार रही है टीम, टैक्सी पकड़ अस्पताल से सीधे मैदान पहुंच गया खेलने

Cricket News inextlive from Cricket News Desk