कानपुर। U19 World Cup Final Highlights अंडर 19 वर्ल्डकप का फाइनल रविवार को भारत बनाम बांग्लादेश के बीच खेला गया। इस खिताबी मुकाबले में भारत को 3 विकेट से करारी शिकस्त मिली। इसी के साथ भारत का पांचवां वर्ल्डकप जीतने का सपना टूटा तो बांग्लादेश पहली बार वर्ल्डकप चैंपियन बन गया। इस रोमांचक मुकाबले में भारत ने पहले खेलते हुए मात्र 177 रन बनाए, जवाब में बांग्लादेश ने 42.1 ओवर में सात विकेट के नुकसान पर 170 रन बना लिए। इस बीच बारिश आ गई और डकवर्थ लुईस नियम के तहत बांग्लादेश को 170 रन का टारगेट मिला जोकि वह पहले ही बना चुके थे। ऐसे में उन्हें 3 विकेट से विजेता घोषित कर दिया गया। आइए जानें भारत की हार और बांग्लादेश की जीत की बड़ी वजह क्या रही।

भारतीय बल्लेबाजों का खराब प्रदर्शन

पूरे टूर्नामेंट में शानदार परफाॅर्मेंस करते आ रहे भारतीय बल्लेबाज खिताबी मुकाबले में चूक गए। स्टार बैट्समैन यशस्वी जायसवाल को छोड़ कोई भी भारतीय बल्लेबाज पिच पर ज्यादा देर नहीं टिक सका। भारत के लिए ओपनिंग में आए जायसवाल ने सबसे ज्यादा 88 रन बनाए, हालांकि उन्हें तिलक वर्मा (38) और विकेटकीपर जुरैल (22) का साथ मिला। मगर ये दोनों भी लंबी पारी नहीं खेल पाए। जायसवाल के आउट होने के बाद तो मानों विकेट की झड़ी लग गई। इसके बाद एक-एक करके बल्लेबाज आउट होते गए और पूरी भारतीय टीम फाइनल मैच में 177 रन पर सिमट गई।

u19 world cup final highlights: जानें भारत को हराकर पहली बार वर्ल्डकप कैसे जीते बांग्लादेशी

पूरे ओवर भी नहीं खेल पाई टीम इंडिया

पिछले 10 मैचों में लगातार जीतती आ रही भारतीय टीम के लिए सबसे शर्मनाक बात थी कि फाइनल मुकाबले में पूरी टीम 50 ओवर भी नहीं खेल पाई। बांग्लादेशी गेंदबाजों ने इतनी जबरदस्त गेंदबाजी की, 47.2 ओवर में ही पूरी टीम इंडिया सिमट गई। बांग्लादेशी गेंदबाजों ने शुरुआत से भारत पर दबाव बना रखा था, जिसकी वजह से भारतीय बल्लेबाजों का खराब शाॅट सलेक्शन उन्हें वापस पवेलियन भेज रहा था। बांग्लादेश की तरफ से सबसे ज्यादा 3 विकेट अविशेक दास ने लिए। इसके अलावा हसन शाकिब और इस्लाम ने 2-2 विकेट लिए। वहीं रकीबुल हसन ने एक विकेट चटकाया।

रवि विश्नोई की फिरकी का दिखा जादू

178 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी बांग्लादेश टीम ने शुरुआत तो काफी अच्छी की। दोनों ओपनर्स ने 50 रन की ओपनिंग साझेदारी की मगर भारतीय स्पिन गेंदबाज रवि विश्नोई ने जैसा ही पहला विकेट निकाला, मानों बांग्लादेशी टीम में हड़कंप सा मच गया। बांग्लादेश के लिए बेहद आसान लग रही जीत को विश्नोई ने मुश्किल बना दिया। इस युवा स्पिनर ने एक के बाद कुल 4 बल्लेबाजों को पवेलियन भेज बांग्लादेश को मुश्किल में डाल दिया। अपने 10 ओवर के कोटे में विश्नोई ने मात्र 30 रन देकर 4 विकेट चटकाए, इसमें तीन मेडेन ओवर भी थे।

u19 world cup final highlights: जानें भारत को हराकर पहली बार वर्ल्डकप कैसे जीते बांग्लादेशी

बांग्लादेशी कप्तान ने दिलाई जीत

रवि विश्नोई की खतरनाक गेंदबाजी के आगे बांग्लादेशी कप्तान अकबर अली क्रीज पर फिर भी टिके रहे। बाकी बल्लेबाज एक-एक करके आउट हो रहे थे मगर अकबर ने एक बार क्रीज पर पांव जमाया तो टीम को जीत दिलाकर ही लौटे। बांग्लादेशी कप्तान अकबर अली 43 रन बनाकर नाबाद लौटे और बांग्लादेश को पहली बार वर्ल्डकप दिलवाया।

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari

Cricket News inextlive from Cricket News Desk