कानपुर। क्रिकेट जगत में भारत आैर पाकिस्तान एक-दूसरे के चिर-प्रतिद्वंदी हैं। दोनों टीमों के खिलाड़ी जब मैदान पर उतरते हैं तो वहां का माहौल काफी गर्म हो जाता है। यही गर्मी खिलाड़ियों को आपस में उलझा देती है। कभी वीरेंद्र सहवाग और शोएब अख्तर तो कभी गौतम गंभीर और शाहिद अफरीदी के बीच मैदान पर ऐसी ऐसी फाइट हो चुकी हैं, जिन्हें क्रिकेट हिस्ट्री में कभी भुलाया नहीं जा सकता।

किरण मोरे - जावेद मियांदाद

ऑस्ट्रेलिया के सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर 1992 विश्व कप में भारत और पाकिस्तान के बीच मुकाबला हो रहा था। भारत ने पहले बल्लेबाजी कर 50 ओवर में 7 विकेट खोकर 216 रन बनाए थे। वहीं पाक ने 17 रन के भीतर दो विकेट खो दिए तो उसका बौखलाना जायज था। जावेद मियांदाद और सोहेल की जोड़ी पारी को संभालने में जुटी थी। वहीं भारतीय टीम उन पर लगातार दबाव बनाए थी। 25वें ओवर में मियांदाद स्ट्राइक पर थे। किरन मोरे ने जब जावेद मियांदाद के खिलाफ आउट के लिए खूब अपील की, तो उन्हें गुस्सा आ गया। अगली ही बॉल पर बाउंड्री जड़ने के बाद जावेद मियांदाद ने किरण मोरे को चिढ़ाते हुए तीन बार हवा में उछलकर दिखाया। मियांदाद का यह अंदाज आज तक नहीं भुलाया जा सकता।

वेंकटेश प्रसाद - आमिर सोहेल

1996 विश्वकप का क्वार्टर फाइनल भारत बनाम पाकिस्तान के बीच चल रहा था। इस मैच में भारतीय तेज गेंदबाज वेंकटेश प्रसाद और पाकिस्तान बल्लेबाज आमिर सोहेल अपना आपा खो बैठे। भारत ने इस मैच में पाक के सामने 287 रनों का विशाल लक्ष्य खड़ा किया। लक्ष्य का पीछा करते हुए पाक क्रिकेटर काफी दबाव में थे। खेल के दौरान मैच का 15वां ओवर वेंकटेश प्रसाद फेंक रहे थे। जिसमें ओवर की चौथी गेंद पर सोहेल ने चौका जड़ दिया। चौका लगाने के बाद सोहेल खुश हुए और प्रसाद की ओर इशारा किया कि जाआे बाॅल उठाकर लाआे। हालांकि इस पर वेंकटेश ने कोई जवाब नहीं दिया। मगर अगली गेंद पर उन्होंने सोहेल का स्टंप उखाड़ दिया आैर अपना बदला पूरा किया।

जब क्रिकेट मैदान पर हुर्इ भारत-पाकिस्तान क्रिकेटरों की लड़ार्इ

गौतम गंभीर - शाहिद आफरीदी

इंडिया पाकिस्तान मैच के दौरान हुई इस बिगेस्ट फाइट के कारण गौतम गंभीर ओर शाहिद अफरीदी दोनों के ऊपर फाइन लगाया गया था। मैच के दौरान सिंगल लेने के लिए दौड़ रहे गंभीर बॉलिंग कर रहे अफरीदी से टकरा क्या गए, कि दोनों के बीच जमकर गाली गलौच हुई। अंपायर के रोकने के बावजूद ये दोनों एक दूसरे को गालियां देते रहे। फाइनली मैच के बाद दोनों प्लेयर्स को फाइन झेलना पड़ा था।

गौतम गंभीर - कामरान अकमल

2010 के एशिया कप मैच में पाकिस्तान के विकेटकीपर कामरान अकमल से बाएं हाथ के बल्लेबाज गौतम गंभीर की तीखी बहस हुई थी। इस दौरान सईद अजमल की बॉल गंभीर को बीट कर रही थीं। जिस पर अकमल जोरों से चीखकर कर अपील कर रहे थे। यह बात गंभीर को बर्दाश्त नहीं हो पा रही थी। इस पर बुरी तरह भड़के गए और ड्रिंक्स ब्रेक के दौरान कामरान अकमल और गंभीर के बीच बहस होने लगी थी।

हरभजन सिंह - शोएब अख्तर

इंडिया और पाकिस्तान के बीच मैच का आखिरी ओवर चल रहा था और भारत का जीत के लिए 7 बॉल्स पर 7 रन बनाने थे। ऐेसे में शोएब अख्तर ने हरभजन सिंह को परेशान करने वाली बॉल डालने के बाद जैसे ही उन्हें उकसाया। इन दोनों के बीच मैदान पर जमकर बहस शुरु हो गई। हालांकि हरभजन सिंह ने कुछ ही सेकेंड बाद मोहम्म्द आमिर की बॉल पर छक्का जड़कर भारत को जीत दिला दी। भारत को जीत दिलाने के बाद हरभजन सिंह ने शोएब अख्तर को भी अपना दमदार रुख दिखाया और शोएब मायूस होकर चले गए।

भारत आैर पाकिस्तान आमने-सामने, मैदानी जंग को लेकर पहुंचे ICC

पाकिस्तान की धरती पर इतनी बार पाक को हरा चुकी भारतीय क्रिकेट टीम

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari

Cricket News inextlive from Cricket News Desk