राजौरी (एएनआई)। पाकिस्तानी सैनिकों ने राजौरी जिले के नौशेरा सेक्टर में गोलीबारी की। डिफेंस पीआरओ लेफ्टिनेंट कर्नल देवेंद्र आनंद ने बताया कि इस गोलीबारी में सेना के हवलदार दीपक करकी बुरी तरह जख्मी हो गए थे, जो उपचार के दौरान अपनी जिंदगी हार गए। पीआरओ ने बताया कि वे एक बहादुर सैनिक थे। यह राष्ट्र कर्तव्य के प्रति उनके सर्वोच्च बलिदान का हमेशा ऋणि रहेगा।

पाक सेना पहले भी करती रही है सीजफायर का उल्लंघन

इससे पहले दिन में कई बार पाकिस्तानी सेना ने कृष्णा घाटी में तड़के 3.30 बजे और नौशेरा सेक्टर में सुबह 5.30 बजे सीजफायर का उल्लंघन करते हुए छोटे हथियारों से गोलीबारी की। ध्यान रहे कि पूर्वी लद्दाख में भारत-चीन एलएसी पर बवाल के बाद से ही पाकिस्तान बार-बार एलओसी पर सीजफायर का उल्लंघन कर रहा है। वह मौके का फायदा उठाकर आतंकियों को सीमापार करवाना चाह रहा है।

2,027 से ज्यादा बार युद्धविराम समझौते का उल्लंघन

हवलदार करकी इस महीने राजौरी और पुंछ में पाकिस्तानी युद्धविराम उल्लंघन के दौरान शहीद वाले चौथे सैनिक हैं। 4 जून और 10 जून को भारतीय सेना के दो जवान सीजफायर उल्लंघन में शहीद हो गए थे। वहीं पुंछ में 14 जून को सेना का एक अन्य जवान पाकिस्तानी गोलीबारी में शहीद हो गया था। इस साल पाकिस्तानी सेना ने 10 जून तक 2,027 से ज्यादा बार युद्धविराम समझौते का उल्लंघन किया है।

Posted By: Satyendra Kumar Singh

International News inextlive from World News Desk