- आईपीएल में दमदार प्रदर्शन के बावजूद कर्ण शर्मा को मिली मायूसी

- चयनकर्ताओं ने चौकाते हुए किया अक्षर पटेल का सेलेक्शन

- 2011 में मेरठ में हुए अंडर-19 मैच में खेल चुके हैं अक्षर पटेल

nikhil.sharma@inext.co.in

Meerut: आईपीएल-7 में अपने दमदार प्रदर्शन से सभी को चौकाने वाले लेग स्पिनर कर्ण शर्मा को चयनकर्ताओं ने चौका दिया. बांग्लादेश दौरे के लिए जब टीम में लेग स्पिनर की जरूरत थी, तब कर्ण को किनारे करते हुए चयनकर्ताओं ने गुजरात के लेग स्पिनर अक्षर पटेल का चयन कर दिया. जबकि इस चयन के कर्ण अक्षर से ज्यादा हकदार थे.

कर्ण से कैसा मुकाबला

सनराइजर्स हैदराबाद की टीम में मेरठ के कर्ण शर्मा ने अहम भूमिका निभाई थी. कर्ण ने क्ब् मैचों में क्भ् विकेट झटके हैं. जबकि किंग्स इलेविन पंजाब के लेग स्पिनर अक्षर पटेल का प्रदर्शन इतना खास नहीं रहा. अक्षर ने क्भ् मैचों में क्म् विकेट लिए हैं. जबकि उन्होंने भ् से ज्यादा के इकोनॉमी से रन खर्च किए हैं. जबकि कर्ण का प्रदर्शन पिछले आईपीएल में भी शानदार रहा था. ऐसे में कहीं से भी कर्ण अक्षर से कमतर नहीं है. इसके बावजूद चयनकर्ताओं ने कर्ण पर अक्षर को तरजीह दे दी.

कर्ण को मायूसी

सुबह से ही कर्ण और उनका परिवार शाम को होने वाली टीम की घोषणा का इंतजार कर रहा था. हर किसी को उम्मीद थी कि कर्ण जरूर चयनकर्ताओं की नजरों में होगा और उसे बांग्लादेश दौरे के लिए टीम में जगह मिल जाएगी. जहां टीम के बडे़ प्लेयर्स नहीं जा रहे हैं. शाम को जैसे ही टीम में कर्ण का नाम नहीं मिला, सभी मायूस हो गए.

अभी आगे बहुत मौके मिलेंगे. मेरा काम सिर्फ प्रदर्शन करना है. मैं यही प्रदर्शन दोहराउंगा तो जरूर मौका मिलेगा.

कर्ण शर्मा, क्रिकेटर

कर्ण ने अपना प्रदर्शन किया है. सभी को उम्मीद थी कि कर्ण बांग्लादेश टीम में चुन लिया जाएगा, लेकिन अक्षर का चयन हो गया.

अतहर अली, कर्ण के कोच